टोहाना में हुई गिरिफ्तारी के विरोध में जींद कैथल रोड जाम।

टोहाना में हुई गिरिफ्तारी के विरोध में जींद कैथल रोड जाम।

टोहाना में हुई गिरिफ्तारी के विरोध में जींद कैथल रोड जाम।

टोहाना में हुई किसानों की गिरफ्तारी के विरोध में किसानों ने चांदपुर गांव में अवरोधक डालकर जींद-कैथल मार्ग को जाम कर दिया। जाम लगाते ही किसानों ने सरकार को अल्टीमेटम दिया है कि जब तक किसानों की रिहाई नहीं होगी तब तक जाम नहीं खोला जाएगा। जाम की सूचना मिलते ही अलेवा थाना प्रभारी बीरबल सिंह तथा अलेवा नायब तहसीलदार साहिल अरोड़ा मौके पर पहुंचे और जाम लगा रहे किसानों को समझा-बुझाकर करीब सात घंटे बाद जाम को खुलवाया। किसानों ने कहा कि सरकार किसानों के साथ अन्याय कर रही है। लगभग 400 किसान आंदोलन में शहीद हो चुके हैं, लेकिन इसके बावजूद किसानों की सरकार ने अब तक कोई सुध नहीं ली है। सरकार के विधायक आपस में भाईचारा खराब करने के लिए आए दिन ओछे हथकंडे अपना रहे हैं। जब विधायक को पता है कि किसानों का आंदोलन चला हुआ है तो फिर आंदोलन को खराब करने के लिए क्यों षड्यंत्र रचा जा रहा है। किसान सरकार की इस मंशा को किसी तरह से सफल नहीं होने देंगे।