सिटिंग जज की निगरानी में सीबीआई मामले की जांच करे : डॉ. सुशील गुप्ता

  1. Home
  2. Breaking news

सिटिंग जज की निगरानी में सीबीआई मामले की जांच करे : डॉ. सुशील गुप्ता

sushil gupta

k9media.live


आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सुशील गुप्ता ने प्रेसवार्ता कर हरियाणा में बढ़ते अपराध को लेकर खट्टर सरकार को घेरा। इस दौरान उनके साथ आम आदमी पार्टी की ज्वाइनिंग कमिटी के चेयरमैन ओमप्रकाश गुर्जर और प्रदेश प्रवक्ता सुरेंद्र राठी मौजूद रहे। इससे पूर्व, आम आदमी पार्टी की नीतियों से प्रभावित होकर डॉ. सुशील गुप्ता की अध्यक्षता में सैकड़ों की संख्या में लोगों ने अन्य पार्टियों को छोड़कर आम आदमी पार्टी ज्वाइन की। नारायणगढ़ विधानसभा से दो बार विधायक का चुनाव लड़ चुके चौधरी मान सिंह गुर्जर बीएसपी छोड़कर, अंबाला कैंट विधानसभा से भूपेन्द्र कुमार छोकर, अंबाला सिटी विधानसभा से समाजसेवी देवेंद्र सिंह अंतिल, रजत कुमार कांग्रेस छोड़कर, पूर्व सरपंच महिंद्रपाल और पंचकुला विधानसभा से सुमित वाल्मीकि, राजेश राजा, धर्मपाल लौट और वीरेंद्र राजपूत अन्य पार्टियों को छोड़कर आम आदमी पार्टी में शामिल हुए।

डॉ. सुशील गुप्ता ने कहा कि आज के समय में हरियाणा अपराध में नंबर वन हो गया है। सीएम खट्टर के राज में अपराधी बेखौफ घूम रहे हैं, प्रदेश के व्यापारी डर के माहौल में जीने को मजबूर हैं और हरियाणा में लगातार गैंगस्टर्स का आतंक बढ़ रहा है। हरियाणा में बढ़ते अपराध को रोकने में खट्टर सरकार विफल साबित हुई है। उन्होंने कहा कि बहादुरगढ़ में हुई इस घटना से मुझे बहुत दुख है, लेकिन गुस्सा भी है कि ये हरियाणा में क्या हो गया। जो हरियाणा सबसे सुरक्षित राज्य होता था वो आज जंगलराज क्यों बन गया है।

उन्होंने कहा सीसीटीएनएस (अपराध और आपराधिक ट्रैकिंग नेटवर्क और प्रणाली) के आंकड़े बताते हैं कि हरियाणा में पिछले 11 महीने में अब तक मर्डर की 974, दुष्कर्म की 1701, सामूहिक दुष्कर्म की 139, किडनैपिंग 3871, लूटपाट की 271 और क्राइम अगेंस्ट वीमेन की 10,946 घटनाएं हुई। इस डाटा के मुताबिक हरियाणा में प्रतिदिन 5 से 6 दुष्कर्म, 11 से 12 किडनैपिंग और 3 से 4 मर्डर हो रहे हैं। 

उन्होंने कहा कि हरियाणा के इतिहास कल पहली बार राजनीतिक हत्या हुई। इनेलो के प्रदेश अध्यक्ष नफे सिंह राठी और उसके निजी सुरक्षा कर्मी की सरेआम दिन दहाड़े गोलियां मारकर हत्या कर दी गई। परिवार ने पुलिस शिकायत में भाजपा के पूर्व विधायक, वहां के चेयरमैन और भाजपा के नेताओं को आरोपित बनाया है। उनके परिवार का कहना है कि वो पहले भी शिकायत कर चुके थे लेकिन सरकार ने कोई सुरक्षा नहीं दी। उन्होंने कहा कि जब आदमी जान बचाने के लिए चार चार निजी सुरक्षा कर्मियों को साथ लेकर घूम रहा हो, उसको धमकियां मिल रही हो और मुख्यमंत्री उस जिले में मौजूद हो, जहां कुछ दिन पहले व्यापारियों पर गोलियां चलाकर गल्ले लूट ले गए हों, जहां सुरक्षा की दृष्टि से व्यापारियों ने जाम भी लगाया हो और एसपी ने सुरक्षा बढ़ाने का आश्वासन दिया हो उसके बावजूद वहां पर मर्डर हो रहा है। ये हरियाणा के लिए बहुत शर्म की बात है। इस मामले में आम आदमी पार्टी सिटिंग जज की निगरानी में सीबीआई जांच की मांग करती है। ताकि ऐसी घटनाओं पर लगाम लगाई जा सके। 

उन्होंने कहा कि यदि ये हरियाणा में राजनीतिक मर्डर होने की परंपरा शुरू हो चुकी है तो इसका मतलब हरियाणा में जंगलराज शुरु हो चुका है। हरियाणा के लोग अपराध के साए में जीने को मजबूर हैं। उन्होंने कहा कि आज हरियाणा रेप रेट और मर्डर रेट में देश में दूसरे नंबर पर है, हरियाणा में यूपी से ढाई गुना ज्यादा अपराध बढ़ चुका है। हरियाणा में सरेआम गोलियां चलाकर व्यापारियों से फिरौती मांगी जा रही है, व्यापारी डर के साए में जीने को मजबूर हैं और सीएम खट्टर के सारे दावे फर्जी नजर आ रहे हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार ने साढ़े नौ साल पहले प्रदेश के लोगों की सुरक्षा की जिम्मेदारी ली थी, लेकिन इस सरकार ने हरियाणा में कानून का राज खत्म करके गुंडों का राज बना दिया है। भाजपा सरकार अपराध को रोकने में विफल साबित हुई है। आम आदमी पार्टी मुख्यमंत्री खट्टर सरकार कानून का सही पालन कराने की मांग करती है।

Around The Web

Uttar Pradesh

National