Haryana News Update: छेड़छाड़ के आरोप में उचाना के प्रिंसिपल पर हुई बड़ी कार्यवाई, बार- बार मिला बड़े नेता का साथ

  1. Home
  2. Breaking news

Haryana News Update: छेड़छाड़ के आरोप में उचाना के प्रिंसिपल पर हुई बड़ी कार्यवाई, बार- बार मिला बड़े नेता का साथ

Haryana hindi news, Jind hindi news, Principal, Molesting, Girl Students, Women Commission Demands," /><meta name="news_keywords" content="Haryana hindi news, Jind hindi news, Principal, Molesting, Girl Students, Women Commission Demands,,,2023-11-04T08:28:05+05:30" /><meta itemprop="url" content="https://haryana.punjabkesari.in/haryana/news/principal-accused-

Haryana News Update: छेड़छाड़ के आरोप  में उचाना के प्रिंसिपल पर हुई बड़ी कार्यवाई, बार- बार मिला बड़े नेता का साथ



Haryana News Update: हरियाणा के जींद जिले के उचाना क्षेत्र में छात्राओं के साथ गंदी हरकतें, छेड़छाड़ करने वाले प्रिंसिपल करतार सिंह के खिलाफ पहले भी चार से पांच बार शिकायतें हुईं, लेकिन क्षेत्र के बड़े नेता के राजनीतिक संरक्षण के कारण हर बार प्रिंसिपल बच गया। शिकायतकर्ताओं पर दबाव डालकर समझौता करवा लिया जाता। इस बार मामला स्थानीय अधिकारियों, जिला शिक्षा अधिकारी से ऊपर राज्यपाल, राष्ट्रपति तक जा पहुंचा तो आरोपी के खिलाफ जांच की फाइल खुल गई।

आरोपी प्रिंसिपल की गिरफ्तारी के लिए पुलिस जगह-जगह छापेमारी कर रही है। उम्मीद है कि शाम तक प्रिंसिपल को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

जिस प्रिंसिपल पर छात्राओं ने आरोप लगाए हैं, उनके साथ काम कर चुके कुछ अध्यापकों ने कहा कि उनके साथ रहते किसी तरह की कोई शिकायत नहीं आई। इस तरह का कुछ सुनने को भी नहीं मिला, हो सकता है किसी साजिश के तहत प्रिंसिपल को फंसाया जा रहा हो, क्योंकि उचाना के सरकारी स्कूल में प्रिंसिपल पिछले छह साल से तैनात हैं और मामला अब सामने आया है।

BEO-DEO को सूचना दिए बिना छात्राओं को कराया टूर
वहीं, एक अध्यापक ने कहा कि क्षेत्र के एक बड़े नेता ने हर बार प्रिंसिपल को बचाया है। उनके खिलाफ कई बार शिकायतें सुनने को मिली। यह प्रिंसिपल पहले प्राइवेट स्कूल में गणित का अध्यापक था। साल 2010-11 में हेडमास्टर की सीधी भर्ती में सरकारी नौकरी लगी थी। यह भी बताया जा रहा है कि आरोपी प्रिंसिपल BEO और DEO को सूचना दिए बिना नौंवी, दसवीं समेत बड़ी कक्षाओं की छात्राओं को टूर पर ले गया था।

नियमानुसार छात्राओं के टूर से पहले जिला शिक्षा अधिकारी को सूचना देना अनिवार्य होता है, लेकिन प्रिंसिपल ने बिना किसी को सूचना दिए ही टूर कराया और बाद में इस मामले की चर्चा हुई तो राजनीतिक संरक्षण के चलते कार्रवाई नहीं हो पाई। इसके बाद हलके के ही एक गांव में ड्यूटी के दौरान सरकारी स्कूल में एक महिला कर्मचारी के साथ छेड़छाड़ के आरोप लगे।

आरोपी को पकड़ने के लिए डीएसपी ने गठित की एसआईटी
इस दौरान प्रिंसिपल पर एससी-एसटी का केस भी लगने वाला था, लेकिन यहां भी राजनीतिक संरक्षण के कारण केस होने से पहले ही मामले को रफा-दफा कर दिया गया। आरोपी प्रिंसिपल को पकड़ने की खातिर डीएसपी अमित भाटिया के नेतृत्व में SIT गठित की गई है। उचाना थाना प्रभारी ने कहा कि जल्द ही आरोपी को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

राज्य महिला आयोग की चेयरपर्सन रेणू भाटिया ने कहा कि छात्राओं को टूर पर ले जाने की भी सूचना उनके पास है। इस मामले में जांच की जा रही है। पुलिस को 24 घंटे में प्राचार्य को गिरफ्तार करने के आदेश जारी किए थे। इस मामले में वह लगातार पुलिस के साथ संपर्क में हैं।
 

Around The Web

Uttar Pradesh

National