ब्लैकमेलरों ठगों व लुटेरों का गिरोह है कांग्रेस पार्टी - डॉ. अशोक तंवर

ब्लैकमेलरों ठगों व लुटेरों का गिरोह है कांग्रेस पार्टी - डॉ. अशोक तंवर

ब्लैकमेलरों ठगों व लुटेरों का गिरोह है कांग्रेस पार्टी  - डॉ. अशोक तंवर

रोहतक। अपना भारत मोर्चा के अध्यक्ष डॉ. अशोक तंवर ने अपनी पुरानी पार्टी को ब्लैकमेलर, ठगों व लुटेरों का गिरोह करार दे दिया। डॉ. तंवर का कहना है कि कांग्रेस पार्टी में जो जितना बड़ा ब्लैकमेलर और लुटेरा होगा उसको उतना ही फायदा मिलेगा और जब तक सोनिया गांधी ऐसे लोगों को बाहर का रास्ता नहीं दिखाएंगी , तब तक पार्टी इसी तरह से नीचे जाती रहेगी। ऐलनाबाद चुनाव को लेकर अशोक तंवर ने कहा कि चुनाव लड़ने वाले सभी उनसे बात कर रहे हैं और वह जनता से बात कर अपना अगला फैसला लेंगे। डॉ. अशोक तंवर आज रोहतक में एक प्रेस वार्ता में बोल रहे थे।

अपना भारत मोर्चा के अध्यक्ष डॉ अशोक तंवर ने मोर्चा के पदाधिकारियों की बैठक ली। रोहतक में पत्रकारों से बातचीत करते हुए ऐलनाबाद उपचुनाव और देश मे मौजूदा हालातों को लेकर चर्चा भी की। उन्‍होंने कहा हरियाणा के हालात नाजुक हैं। किसानों की धान खरीदी नहीं जा रही है। किसानों की बर्बाद हुई फसलों का मुआवजा भी नहीं मिल रहा। किसान बीमा कंपनी के चक्कर काट रहें हैं। सरकार किसानों की सुन नहीं रही है। प्रदेश में विपक्ष मजबूत नहीं है। इसलिए जनता का सरकार शोषण कर रही है। सात साल में कांग्रेस ने विपक्ष का रोल क्‍या अदा किया ये आपके समक्ष है। लेकिन देखते हैं, कितने दिन ये कार्यक्रम चलता है।

पूर्व में कांग्रेसी नेता रहे अशोक तंवर ने कहा कि अपना भारत मोर्चा राजनीतिक दल नहीं है। यह अच्छे लोगों का सांझा मंच है, जो देश के बेहतर भविष्य और अच्छे निर्माण के लिए काम करेगा। इसलिए ऐलनाबाद उपचुनाव में मोर्चा ने प्रत्याशी नहीं उतारा। कार्यकर्ताओं से राय लेकर निर्णय लिया जाएगा। अभी किसी प्रत्याशी को समर्थन का फैसला नहीं लिया है। ऐलनाबाद उपचुनाव में हम लोगों के बीच जाएंगे। 28 अक्टूबर तक हल्के में ही रहेंगे। कार्यकर्ता से बातचीत करेंगे। तीन प्रमुख राजनीतिक दलों में ही मुकाबला अभी तक दिख रहा है। लेकिन सही आकलन मतदान से ठीक पहले ही हो पाएगा। कांग्रेस में ब्लैकमेलरों का बोलबाला है, शरीफ की कोई सुनवाई नहीं है। तंवर ने हुड्डा और सैलजा में आपसी मतभेद के सवाल पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि कांग्रेस हाईकमान को अनुशासन तोड़ने वालों को पार्टी से निष्कासित कर देना चाहिए।

बता दें कि अशोक तंवर हरियाणा में कांग्रेस पार्टी के प्रदेशाध्‍यक्ष रह चुके हैं और हाईकमान के फैसलों पर असहमत होते हुए उन्‍होंने इस पद से इस्‍तीफा देकर कांग्रेस को अलविदा कह दिया था। हुड्डा और सैलजा को लेकर उनकी प्रतिक्रिया बदलती रही है। अशोक तंवर ने अब खुद का एक मंच बनाया हुआ है जिसे वो राजनीतिक नहीं मानते हैं। सिरसा से सांसद रह चुके डॉ. अशोक तंवर ने ऐलनाबाद उपचुनाव में अपना प्रत्‍याशी भी नहीं उतारा है।

डॉ. अशोक तंवर ने कहा के जिस तरह से पंजाब में सिद्धू ने ब्लैक मेलिंग की और पार्टी को नीचे गिराने का काम किया, उससे यह साफ जाहिर होता है कि कांग्रेस पार्टी में ब्लैकमेलर, ठग व लुटेरों का बोलबाला है। जो भी जितना बड़ा ब्लैकमेलर और लुटेरा है उसकी पार्टी में उतनी ही ज्यादा चलती है। यही नहीं जिस तरह से हालात हरियाणा कांग्रेस में हैं उसे देखते हुए जब तक सोनिया गांधी ऐसे लोगों को बाहर का रास्ता नहीं दिखाएगी तब तक पार्टी इसी तरह से कमजोर होती रहेगी।  डॉ. अशोक तंवर ने हुड्डा और सैलजा में आपसी मतभेद के सवाल पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि कांग्रेस हाईकमान को अनुशासन तोड़ने वालों को पार्टी से निष्कासित कर देना चाहिए।