समाज में समानता का अधिकार बाबा साहब अंबेडकर की ही देन है : देवेंद्र कादियान

समाज में समानता का अधिकार बाबा साहब अंबेडकर की ही देन है : देवेंद्र कादियान

गांव बेगा की एस सी चौपाल में बाबा साहब जन उत्थान समिति और युवा संघ समिति द्वारा बाबा साहब डॉ भीमराव अंबेडकर की जयंती मनाई गई। जिसमें मन्नत ग्रुप के चेयरमैन श्री देवेंद्र कादयान जी ने बतौर मुख्य अतिथि शिरकत की। देवेंद्र कादयान जी ने  जोत प्रज्वलित करने के बाद पुष्प अर्पित कर बाबा साहब अंबेडकर के चरणों में नमन किया और उनके द्वारा किए गए कार्यों को याद किया। देवेंद्र कादियान ने कहा कि समाज में समानता का अधिकार बाबा साहब अंबेडकर की ही देन है उन्होंने समाज के उत्थान के लिए सदैव संघर्ष किया। बाबा साहब एक बहुत ही अच्छे लेखक भी थे उन्होंने काफी पुस्तकों की रचनाएं भी की। अंबेडकर एक सफल पत्रकार एवं प्रभावी संपादक भी थे उनका मानना था अखबारों के माध्यम से समाज में उन्नति होगी और वह आंदोलन में अखबार को बेहद महत्वपूर्ण मानते थे बाबा साहब ने शिक्षा के स्तर को उठाने के लिए भी जीवन भर बहुत ही संघर्ष किया। 07 नवंबर 1900 को बाबा साहब ने अंग्रेजी की पहली कक्षा में प्रवेश लिया था इसलिए 7 नवंबर को महाराष्ट्र में विद्यार्थी दिवस के रूप में मनाया जाता है। कादियान ने कहा कि बाबासाहेब की सोच और विचारों को जन जन तक पहुंचाने  के लिए हमे सदैव संघर्ष करते रहना चाहिए । बाबा साहब की जयंती के इस मौके पर रामगोपाल (एससी मोर्चा जिला उपाध्यक्ष), रामफल (मंडल सचिव), धर्मवीर (मंडल महामंत्री), बॉबी (मंडल अध्यक्ष), इन्द्र, राम कुमार, सचिन, अनिल, जॉनी, सुमित, सागर, युवराज, नीरज, सुनील व लहरी आदि ग्रामवासी मौजूद रहे।