नहरी पानी के लिए किसानों पर जेली-फरसों से हमला, सात लाेग घायल, तीन गंभीर

नहरी पानी के लिए किसानों पर जेली-फरसों से हमला, सात लाेग घायल, तीन गंभीर

नहरी पानी के लिए किसानों पर जेली-फरसों से हमला, सात लाेग घायल, तीन गंभीर

भिवानी। भिवानी जिले के जाटू लुहारी में एक बार फिर से नहरी पानी का विवाद शुरू हो गया है। धान में नहरी पानी लगाने काे लेकर एक पक्ष के डेढ़ दर्जन लाेगाें ने दूसरे पक्ष के सदस्यों पर फरसे, लाठी व जेली से हमला कर दिया। हमले में सात किसान घायल हाे गए। तीन गंभीर रूप से घायलों को हिसार के एक निजी अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। पुलिस ने 14 हमलावरों के खिलाफ विभिन्न धाराओं के मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। जाटू लुहारी निवासी घायल पवन कुमार ने बताया कि बारिश न होने के कारण धान की फसल सूख रही है, इसलिए वह अपनी फसल में नहरी पानी लगा रहा था।

इसी दाैरान खेत का पड़ोसी सुरेंद्र उर्फ कालू वहां आया। वह अपनी धान की फसल में बिजाई करना चाहता था। इसलिए वह खेत से पानी काटने पर गाली-गलौज करने लगा। पवन ने बताया कि इस पर वह वापस घर आ गया और परिवार के सदस्यों काे पूरी बात बताई। परिवार के सदस्यों ने सुरेंद्र उर्फ कालू व उसके परिवार के मौजिज लोगों को बुलाया और समझा-बुझाकर समझौता करा दिया। पवन ने आरोप लगाया कि अगले दिन जब वह धान की फसल में खाद डाल रहा था ताे सुरेंद्र उर्फ कालू व उसके परिवार के 14-15 लोग ट्रैक्टर-ट्राली में वहां पहुंचे और उस पर लाठी, जेली, फरसे हमला कर दिया।

हमलावर उसे मृत समझकर वहां से भाग गए। कुछ समय बाद उसके परिवार के सदस्य कुलमेन्द्र, जगपाल सिंह, करण सिंह, कृष्ण सिंह, सुरेंद्र उर्फ सते, और मैनपाल वहां पहुंचे। जब वे उसे अस्पताल ले जा रहे थे ताे रावत वाले जोहड़ पर छिपे हमलावरों ने उनके ट्रैक्टर के आगे ट्रैक्टर लगाकर रास्ता रोक लिया और हमला कर दिया। पवन ने बताया कि हमलावरों ने उनके परिवार के सदस्य जगपाल पर फरसे से व सुनील उर्फ बबलू ने लाठी से हमला किया। जिससे उसका पिता जगपाल जमीन पर गिर पड़ा।

हमलावरों ने उसके परिवार के बुजुर्ग व्यक्ति कृष्ण व करण सिंह पर हमला किया। पवन, कुलमेंद्र व उसका भतीजा मैनपाल अपने परिवार के बुजुर्गों को बचाने लगे ताे सभी ने पवन व उसके भतीजे मैनपाल पर भी हमला कर दिया। हमले में घायल पवन, कुलविन्द्र, जगपाल, शक्ति, करण सिंह, कृष्ण व मैनपाल घायल हाे गए। उन्हें भिवानी सिविल अस्पताल में भर्ती करवाया गया। जहां से पवन, कुलविन्द्र व जगपाल काे हिसार रेफर किया गया। घायलों की शिकायत पर पुलिस ने सुरेंद्र उर्फ कालु, सतपाल उर्फ सते, सुनील उर्फ बबलू, नरेंद्र उर्फ बिन्द्र, गजराज उर्फ टुकर, सूरज पुत्र सतपाल उर्फ सते, रामलखन पुत्र कमल उर्फ शीशु, अंकित पुत्र नरेंद्र उर्फ बिन्द्र, शंकित पुत्र नरेंद्र उर्फ बिन्द्र, अनिल पुत्र रामस्वरूप, प्रवीण उर्फ काला पुत्र रामस्वरूप समेत 14 लोगों के खिलाफ आईपीसी की धारा 148,149, 323, 341 व 506 के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।