Gangster's Girlfriend Murder Case: अब तक मॉडल दिव्या पाहुजा की लाश नहीं मिली पुलिस को, होटल मालिक अभिजीत की गर्लफ्रेंड ने खोले आरोपी के कई राज

  1. Home
  2. HARYANA

Gangster's Girlfriend Murder Case: अब तक मॉडल दिव्या पाहुजा की लाश नहीं मिली पुलिस को, होटल मालिक अभिजीत की गर्लफ्रेंड ने खोले आरोपी के कई राज

Gangster's Girlfriend Murder Case:  अब तक मॉडल दिव्या पाहुजा की लाश नहीं मिली पुलिस को, होटल मालिक अभिजीत की गर्लफ्रेंड ने खोले आरोपी के कई राज


 

Gangster's Girlfriend Murder Case: दिव्या पाहुजा हत्याकांड की गुत्थी को एसआईटी अभी तक नहीं सुलझा पाई है और ना ही उसके शव का पता लगा पाई है. हालांकि अब इस मामले में हत्या के मुख्य आरोपी और होटल मालिक अभिजीत की गर्लफ्रेंड की भी एंट्री हो गई है. 

बता दें कि गैंगस्टर संदीप गाड़ौली की गर्लफ्रेंड रह चुकी मॉडल दिव्या पाहुजा की हत्या गुरुग्राम के एक होटल में 2 जनवरी की रात को कर दी गई थी. अब एसआईटी को जानकारी मिली है कि दिव्या की हत्या का मुख्य आरोपी होटल मालिक अभिजीत उसके शव को ठिकाने लगाने में अपनी गर्लफ्रेंड की भी मदद लेना चाहता था.

दिव्या की हत्या के बाद अभिजीत ने गर्लफ्रेंड से मांगी मदद
एसआईटी की पूछताछ में अभिजीत ने बताया कि दिव्या की हत्या के बाद उसकी लाश को ठिकाने लगाने के लिए उसने दिल्ली के नजफगढ़ में रहने वाली अपनी गर्लफ्रेंड को होटल सेंटर प्वाइंट बुलाया था. पूछताछ में अभिजीत की गर्लफ्रेंड ने बताया कि वो जब होटल पहुंची तो सबूत मिटाने में अभिजीत की मदद करने से इनकार कर दिया. उसने एसआईटी को बताया कि अभिजीत किसी भी कीमत पर सभी सबूतों को नष्ट करना चाहता था.

एसआईटी की पूछताछ में युवती ने बताया कि वो फूड डिलीवरी के बिजनेस से जुड़ी हुई थी जिस वजह से अभिजीत से उसकी पहचान हुई थी. अब एसआईटी की टीम दिव्या मर्डर केस में मुख्य आरोपी अभिजीत की गर्लफ्रेंड को सरकारी गवाह बनाने की तैयारी में है. 

पुरानी दिल्ली रोड पर फेंका दिव्या का मोबाइल और आई कार्ड

बता दें कि इससे पहले एसआईटी को पूछताछ में हत्या के आरोपी अभिजीत ने बताया था कि सभी सबूतों को मिटाने के लिए उसने दिव्या के आईफोन, आई कार्ड और हत्या में इस्तेमाल पिस्टल को पुरानी दिल्ली रोड पर कहीं फेंक दिया था जिसकी तलाश पुलिस कर रही है.

वहीं दिव्या की हत्या के बाद उसके लाश को ठिकाने लगाने के लिए अभिजीत ने अपने होटल में काम करने वाले दो कर्मचारियों बलराज और रवि को BMW कार के बूट में शव रखकर वहां से भेज दिया था. बाद में पुलिस को ये कार पटियाला से बरामद हुई लेकिन उसमें दिव्या की लाश नहीं थी.

अभी तक नहीं मिली दिव्या की लाश

हालांकि जिस जगह पर कार मिली है वहीं एक नहर भी हैं. ऐसे में पुलिस नहर में भी गोताखोर के जरिए शव को ढूंढने में जुटी हुई है. गुरुग्राम पुलिस अभी तक इस मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार नहीं कर पाई है.

Around The Web

Uttar Pradesh

National