Haryana News: हरियाणा के अर्जुन अवार्डी खिलाड़ियों को मुख्यमंत्री ने किया सम्मानित, खेलों को बढ़ावा देने के लिए मांगे सुझाव

  1. Home
  2. HARYANA

Haryana News: हरियाणा के अर्जुन अवार्डी खिलाड़ियों को मुख्यमंत्री ने किया सम्मानित, खेलों को बढ़ावा देने के लिए मांगे सुझाव

हरियाणा के अर्जुन अवार्डी खिलाड़ियों को मुख्यमंत्री ने किया सम्मानित


 Haryana News: हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने अर्जुन अवार्ड से पुरस्कृत प्रदेश के खिलाड़ियों को सम्मानित किया। नई दिल्ली स्थित हरियाणा भवन में अर्जुन अवार्डी खिलाड़ी व कोच मुख्यमंत्री मनोहर लाल से मुलाकात करने आए थे। मुख्यमंत्री ने राष्ट्रीय खेल पुरस्कार 2023 के तहत अर्जुन अवार्ड से सम्मानित सुनील कुमार (कुश्ती), अंतिम पंघाल (कुश्ती) व दीक्षा डागर (गोल्फ) को बधाई दी।  

मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने इन खिलाड़ियों से सुझाव मांगे कि किस प्रकार से हरियाणा में खेलों को और बढ़ावा दिया जा सकता है। इस पर खिलाड़ियों ने हरियाणा की खेल नीति की प्रशंसा करते हुए कहा कि खेल नीति से खिलाड़ियों का मनोबल बढ़ा है और युवा वर्ग व बच्चे इस खेल नीति से प्रभावित होकर खेलों की ओर आकर्षित हुए हैं। प्रदेश के गांवों में युवा अब खेलों में भविष्य बनाने के लिए अभ्यास कर रहे हैं।

मेडल विजेताओं को सबसे अधिक कैश अवार्ड दे रहा हरियाणा

मुख्यमंत्री ने खिलाड़ियों से विचार सांझा करते हुए कहा कि देश में मेडल विजेताओं को सबसे अधिक कैश अवार्ड हरियाणा में दिए जा रहे है। खिलाड़ी प्रदेश में खेलों की बेहतरी के लिए जो भी अच्छे सुझाव देंगे, उन्हें सरकार लागू करेगी। श्री मनोहर लाल ने कहा कि हमें उस समय दिल से खुशी होती है, जब हरियाणा के खिलाड़ी विदेश की धरती पर मेडल जीतकर तिरंगा फहराते है। तिरंगा फहराने के साथ जब राष्ट्रगान बजता है तो वह हम सभी भारतवासियों के लिए गर्व का क्षण होता है। उन्होंने कहा कि हालांकि आबादी के हिसाब से हरियाणा छोटा राज्य है, इसके बावजूद ओलम्पिक से लेकर राष्ट्रीय स्तर तक हरियाणा सबसे अधिक पदक हासिल करने वाला प्रदेश है। हरियाणा की खेल नीति खिलाड़ियों को आगे बढ़ने का मौका दे रही है और उन्हें उम्मीद है कि भविष्य में इसके और अच्छे परिणाम आएगें।

खिलाड़ियों से चर्चा के दौरान मुख्यमंत्री ने बताया कि जिला खेल अधिकारियों के माध्यम से गांवों में खेल के सामान की आवश्यकता के बारे में जानकारी मांगी गई है। वहां से डिमांड आने के बाद ग्राम पंचायतों के माध्यम से खेलों का सामान उपलब्ध करवा दिया जाएगा। हरियाणा में अब गांव-गांव तक खेल आधारभूत ढांचा विकसित किया जाएगा, ताकि युवाओं की खेल प्रतिभाओं को बचपन से तराशा जा सके। लोकप्रिय खेलों में युवाओं को प्रशिक्षित करने के लिए स्पेशलाइज्ड हाई पावर परफॉर्मेंस सेंटर खोलने की रूपरेखा भी तैयार की जा रही हैं।

खिलाड़ी बोले- हरियाणा की खेल नीति देश में श्रेष्ठ

इस मौके पर मुख्यमंत्री से मिलने आए अर्जुन अवार्डी सुनील कुमार व अंतिम पंघाल ने कहा कि हरियाणा की खेल नीति से खेलों को बढ़ावा मिला है, विशेषकर कुश्ती में हरियाणा ने अलग मुकाम हासिल किया है। प्रतियोगिता चाहे कोई भी हो, हरियाणा के पहलवान पदक लेकर लौट रहे हैं।

खिलाड़ियों के दल के साथ आए पूर्व में अर्जुन अवार्ड से सम्मानित रहे योगेश्वर दत्त ने कहा कि खेलों की दृष्टि से हरियाणा समृद्ध राज्य है। कुश्ती को प्रदेश में और अधिक बढ़ावा देने के लिए मुख्यमंत्री के समझ सुझाव भी दिए गए है। प्रदेश में 2008 के बाद कुश्ती ऊंचाइयों पर पहुंची है। मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल खेलों को बढ़ावा देने के लिए लगातार प्रयासरत है। मुलाकात के दौरान आज भी मुख्यमंत्री ने सुझाव मांगे थे। मुख्यमंत्री का नजरिया गांव स्तर से होनहार खिलाड़ियों को आगे बढ़ने का मौका देने का है।

इस मौके पर मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार राजीव जेटली, खेल विभाग के उप-निदेशक गिर्राज सिंह, अर्जुन अवार्डी कोच रोहताश दहिया, द्रोणाचार्य अवार्डी कोच महावीर सिंह, अर्जुन अवार्डी सुनील कुमार, कॉमनवेल्थ गेम्स के स्वर्ण पदक विजेता अनिल कुमार, ध्यानचंद अवार्डी कुलदीप मलिक, ओलंपिक रेफरी अशोक कुमार, अर्जुन अवार्डी अंशुल मलिक, अर्जुन अवार्डी सरिता मोर, अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी रीतिका, श्वेता व विशाल कालीरमन मौजूद रहे।

Around The Web

Uttar Pradesh

National