Haryana News: हरियाणा के खटकड़ और उचाना में विकसित की जाएगी औद्योगिक इकाइयां

  1. Home
  2. HARYANA

Haryana News: हरियाणा के खटकड़ और उचाना में विकसित की जाएगी औद्योगिक इकाइयां

sc


 
Haryana News: हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा है कि मौजूदा हरियाणा सरकार के चार साल के कार्यकाल के दौरान प्रदेश में प्रत्येक क्षेत्र में विकास के नए आयाम स्थापित हुए है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की दूरगामी एवं विकास परख नीतियों की बदौलत वर्तमान समय में हरियाणा अक्षय ऊर्जा में देशभर में दूसरे पायदान पर है और औद्योगिक विकास की दृष्टि से निवेशकों की पहली पसंद के तौर पर देश के तीन राज्यों में भी शामिल हुआ है, इसके अलावा श्वेत, नीली व औद्योगिक क्रांति में भी हरियाणा ने आज अपना लोहा मनवाया है। मंगलवार को डिप्टी सीएम उचाना हलके दौरे के दौरान पत्रकारों से रूबरू थे।

उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि कोरोना महामारी और किसान आन्दोलन के बावजूद प्रदेश में 38 हजार करोड़ का निवेश आना सरकार की बड़ी उपलब्धि है। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा प्रदेश में औद्योगिक विकास को और गति प्रदान करने के लिए नए कदम उठाए गए है, इसके लिए ई-भूमि पोर्टल और लैंड परचेज के मार्फत एचएसआईडीसी द्वारा 9 जगह औद्योगिक इकाइयां स्थापित करने के लिए आवेदन मांगे गए है। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि यह भी प्रसन्नता का विषय है कि इसके तहत प्रदेशभर में जींद के खटकड़ व उचाना में 550 एकड़ भूमि किसानों द्वारा सरकार को देने के आवेदन प्राप्त हुए है और निकट भविष्य में इस क्षेत्र में एचएसआईडीसी द्वारा औद्योगिक इकाइयां स्थापित करने की प्रक्रिया स्थापित की जाएगी। उन्होंने कहा कि यहां औद्योगिक इकाइयां  स्थापित होने के बाद युवाओं को स्वरोजगार के अवसर प्राप्त होगें। डिप्टी सीएम ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा हाल ही में पदमा योजना लॉन्च की गई है जिसके तहत जींद, रेवाड़ी, पलवल सहित अन्य जिलों में सार्वजनिक एवं निजी आधारभूत इकाईयां स्थापित कर औद्योगिक विकास को नया स्वरूप दिया जाएगा। उपमुख्यमंत्री ने आगे बताया कि दिल्ली-कटरा एक्सप्रेसवे पर लगते मेवात व जींद जिला में भी 200-200 एकड़ के लिए ई-भूमि पर आवेदन मांगे गए है और आवेदन प्राप्त होते ही पायलट ट्रेनिंग ऑपरेटर केन्द्र स्थापित करने के प्रपोजल तैयार किए जाएंगे।

डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने हिट व रन कानून को समय की मांग बताते हुए इस बारे जनसाधारण को किसी भी भ्रान्ति से दूर रहने की अपील की। उन्होंने कहा कि यह कानून अलग-अलग दो प्रावधानों के तहत लागू किया गया है, इसमें आकस्मिक घटना होने और चोटिल व्यक्ति की मदद करने की दिशा में अलग हिदायत लागू होंगी जबकि किसी व्यक्ति को दुर्घटनाग्रस्त कर भागने वाले ड्राइवर पर अलग कायदे सुनिश्चित किए गए है। दुष्यंत चौटाला ने स्पष्ट किया कि ट्रांसपोर्टज की हड़ताल के कारण आमजन को डीजल और पेट्रोल की आपूर्ति में कोई परेशानी नहीं आने दी जाएगी, इसके लिए खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के निदेशक को निर्देश दिए है कि वे प्रदेश के सभी 22 जिलों में पेट्रोल पंप मालिकों को तेल का पर्याप्त भण्डारण व समुचित सप्लाई सुनिश्चित रखने के लिए लिखित आदेश जारी करें। उन्होंने कहा कि इस दौरान कोई भी पेट्रोल सप्लाई वाहन ड्राइवर के हड़ताल में शामिल होने के सम्बन्ध में विभाग द्वारा आवश्यक कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।

उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने उचाना जेजेपी कार्यालय पर लोगों की समस्याएं भी सुनी और संबंधित अधिकारियों को समस्याओं के उचित एवं शीघ्र समाधान के निर्देश दिए। उपमुख्यमंत्री ने प्रदेशवासियों को नववर्ष की शुभकामनाएं दी और प्रत्येक नागरिक के परिवार की समृद्धि एवं उज्जवल भविष्य की कामना की। इस अवसर पर जुलाना के विधायक अमरजीत ढांडा, जेजेपी जिला अध्यक्ष कृष्ण राठी, उपमुख्यमंत्री के निजी सचिव प्रो जगदीश सिहाग, उचाना हलका प्रधान काला नम्बरदार सहित अन्य गणमान्य लोग मौजूद रहे।

Around The Web

Uttar Pradesh

National