Haryana Schools closed: हरियाणा में सरकारी स्कूल होंगे बंद!, जानिए क्यों लिया गया ऐसा फैसला?

  1. Home
  2. HARYANA

Haryana Schools closed: हरियाणा में सरकारी स्कूल होंगे बंद!, जानिए क्यों लिया गया ऐसा फैसला?

x


 

हरियाणा में 20 से कम छात्र संख्या वाले स्कूलों को मर्ज करने की तैयारी शुरू हो गई है। सरकार इन स्कूलों के बच्चों को पास के सरकारी स्कूलों में शिफ्ट करेगी।

ऐसे करीब 7349 बच्चों की लिस्ट तैयार की गई है, जो कि आसपास के दूसरों स्कूलों में शिफ्ट होंगे। सरकार इन बच्चों को स्कूल जाने-आने के लिए वाहन की सुविधा उपलब्ध कराएगी।

दरअसल, शिक्षा विभाग ने कई माह पहले जिलास्तर पर उन स्कूलों की जानकारी मांगी थी, जहां पर 20 से कम छात्र-छात्राएं पढ़ रहे हैं।

अब प्रदेश में 20 से कम छात्र संख्या वाले 832 प्राइमरी स्कूलों की पहचान हुई है। हालांकि बाद में MIS पर इनका डाटा अपडेट होने के बाद स्कूलों की संख्या में कमी भी आई थी।

अधिकतर स्कूलों में छात्र संख्या 20 से कम होने के कारण सरकार ने इन स्कूलों के बच्चों को पास के एक किलोमीटर के दायरे में आने वाले दूसरे सरकारी स्कूलों में शिफ्ट करने का निर्णय लिया था। अब सरकार ने ऐसे 7349 बच्चों की सूची जारी की है , जिन्हें पास के सरकारी- स्कूल में शिफ्ट किया जाना है।

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल के सामने दो महीने पहले रतनगढ़ के स्कूली बच्चों ने बस सेवा शुरू कराने की मांग रखी थी,

जिसके बाद सीएम ने रतनगढ़ से प्रेमनगर तक बस सेवा शुरू करवा दी थी। (फाइल फोटो)

कुछ स्कूलों को लेकर अभी संशय

शिक्षा विभाग द्वारा शिफ्ट होने वाले जिन बच्चों की लिस्ट जारी की गई है, उनमें कई बच्चे ऐसे हैं जिनकी पहले स्कूल और दूसरे स्कूल के बीच की दूरी एक किलोमीटर से अधिक है।

हालांकि विभाग द्वारा एक किलोमीटर तक की दूरी वाले स्कूलों में इन बच्चों को शिफ्ट करने के लिए कहा गया था।

मगर कुछ बच्चों के किलोमीटर की दूरी अधिक होने के चलते उस पर विचार विमर्श किया जाएगा कि उन्हें किस तरह से परिवहन सुविधा उपलब्ध कराई जाए और उन्हें शिफ्ट किया जाएगा या नहीं।

स्कूलों के मर्ज करने के फैसले को लेकर विपक्षी दलों ने सवाल खड़े किए थे। इसके बाद सीएम मनोहर लाल और शिक्षा मंत्री कंवर पाल गुर्जर ने ऐसे बच्चों को ट्रांसपोर्ट की सुविधा देने का ऐलान किया है।

इस कारण से कम रही छात्रों की संख्या

प्रदेश में कई सरकारी स्कूल ऐसे हैं, जहां शिक्षकों की कमी है। जिसके चलते उन स्कूलों में बच्चे दाखिला नहीं लेते या फिर उनके अभिभावक बच्चों का दाखिला नहीं कराते, जिसके चलते इन स्कूलों में छात्र संख्या 20 से कम रह गई। अब इन बच्चों को जल्द ही पास के स्कूलों में शिफ्ट कर दिया जाएगा।

सरकार द्वारा इनके लिए परिवहन सुविधा का भी बंदोबस्त किया जाएगा ताकि इन्हें आने - जाने में किसी तरह की दिक्कत न हो।

CM चलवा चुके विशेष बस

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल के सामने दो महीने पहले रतनगढ़ के स्कूली बच्चों ने बस सेवा शुरू कराने की मांग रखी थी,

जिसके बाद सीएम ने रतनगढ़ से प्रेमनगर तक बस सेवा शुरू करवा दी है। जनसंवाद कार्यक्रम के दौरान बच्चों के लिए विशेष बस चलाने की मुख्यमंत्री ने घोषणा की थी।

बस सर्विस शुरू होने पर आम लोगों के साथ साथ बच्चों ने किया मुख्यमंत्री का धन्यवाद किया है। लोगों ने भारत माता की जय के नारे के साथ स्कूली बस का स्वागत किया है।

Around The Web

Uttar Pradesh

National