भ्रष्टाचार के केस में निलंबित रहे आईएएस अधिकारी विजय दहिया को करनाल का मंडलायुक्त बनाया : डॉ. सुशील गुप्ता

  1. Home
  2. HARYANA

भ्रष्टाचार के केस में निलंबित रहे आईएएस अधिकारी विजय दहिया को करनाल का मंडलायुक्त बनाया : डॉ. सुशील गुप्ता

aam aadmi party

k9media.live


आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ सुशील गुप्ता ने मंगलवार को प्रेसवार्ता कर भ्रष्टाचार के मुद्दे पर खट्टर सरकार को घेरा। इससे पहले प्रसिद्ध हरयाणवी फिल्म स्टार कॉमेडियन महेंद्र सिंह उर्फ झंडू अपने समर्थकों के साथ आम आदमी पार्टी में शामिल हुए। डॉ. सुशील गुप्ता कहा कि सीएम खट्टर ने गीता रख कर कसम खाई थी कि किसी भ्रष्टाचारी को नहीं छोड़ेंगे। लेकिन उन्होंने किसी भी भ्रष्टाचारी को बढ़िया पोस्ट के बिना नहीं छोड़ा। उन्होंने कहा कि सीएम खट्टर ने साल के पहले दिन ही भ्रष्टाचार के केस में निलंबित रहे और जेल गए आईएएस अधिकारी विजय सिंह दहिया को करनाल का मंडलायुक्त बना दिया, जयवीर सिंह आर्य को वित्त विभाग का विशेष सचिव और सुरेश को मानव संसाधन विभाग का प्रधान सचिव बना दिया। खट्टर सरकार ने भ्रष्टाचारियों को नियुक्त करके साबित कर दिया कि वो भ्रष्टाचारियों के साथ है।

उन्होंने कहा कि सीएम खट्टर के राज में पूरे हरियाणा में भ्रष्टाचार फैला हुआ है। जींद, गुरुग्राम और फरीदाबाद सब जगह भ्रष्टाचार जोरों पर है। केवल कागजों में ही काम हो रहे हैं, न कि जमीन पर। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार की गलत नीतियों का खामियाजा प्रदेश की जनता भुगत रही है। दो दिन पहले गेस्ट टीचर्स को दौड़ा दौड़ा कर पीटा गया, जिसमें कई लोगों को गहरी चोटें आई और अब पटवारी व ड्राइवर हड़ताल पर जा रहे हैं। भाजपा सरकार में डॉक्टर, नर्सें, कर्मचारी और किसान सब हड़ताल पर रहे।

उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार में हरियाणा में अपराध कई गुना बढ़ गया है। चार दिन पहले टोहाना में एक युवक की गर्दन पर चाकू रखकर उसे लूट लिया। हरियाणा में हर दिन कहीं फिरौती मांगी जाती है तो कहीं गोली मार दी जाती है। प्रदेश के व्यापारी भय के साए में जीने को मजबूर हैं। हरियाणा में महिलाओं पर भी अपराध लगातर बढ़ रहे हैं। फरीदाबाद में 2 साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म की घटना ने पूरे देश को शर्मशार किया है। दुष्कर्म और सामूहिक दुष्कर्म के मामलों में हरियाणा पूरे देश में दूसरे स्थान पर है।

उन्होंने कहा कि बेरोजगारी में भी हरियाणा पूरे देश में टॉप पर है। सरकार ने पीजीटी के पद पर भर्तियां निकाली, जिसमें आधे से ज्यादा पद खाली छोड़ दिए। सरकार जानबूझकर पदों को खाली रखना चाहती है। उन्होंने कहा कि बेरोजगारी की वजह से प्रदेश के युवा नशे की दलदल में धंसते जा रहे हैं। प्रदेश में एक लाख 82 हजार सरकारी पद खाली पड़े हैं, लेकिन सरकार युवाओं को रोजगार देने को तैयार नहीं है। बल्कि हरियाणा के 10,000 युवाओं को इजरायल भेज कर युद्ध में झोंकना चाहती है। बेरोजगारी के कारण प्रदेश के युवा अपनी जमीन बेचकर पलायन करने को मजबूर हैं और डोंकी के रास्ते अपनी जान जोखिम में डाल रहे हैं।

उन्होंने कहा कि जहां जूनियर महिला कोच से उत्पीड़न के आरोपी संदीप सिंह को मंत्री बनाकर रखा है। वहीं जब जंतर मंतर पर न्याय की लड़ाई लड़ रही हरियाणा की बेटियों को कुचला जा रहा था और अब पहलवान अपने मेडल लौटा रहे तो हरियाणा के मुख्यमंत्री चुप हैं। इसके अलावा उन्होंने कहा कि एनजीटी की रिपोर्ट बताती है कि 22 में से 17 जिलों का पानी पीने के लायक नहीं बचा। हरियाणा सरकार प्रदेश के लोगों की सेहत के साथ खिलवाड़ कर रही है। इसके अलावा किसानों को फसल का मुआवजा नहीं मिलता और सरकार पोर्टल पोर्टल खेलती रहती है। सरकार ने 2022 तक किसान की आय डबल करने की बात कही थी लेकिन आय तो डबल नहीं हुई बल्कि किसानों पर कर्जा डबल जरूर हो गया है और कृषि मंत्री के गृह जिले में किसानों पर कर्जा तीन गुना बढ़ गया है।

उन्होंने कहा कि खट्टर सरकार न किसानों, न युवाओं, न कर्मचारियों, न महिलाओं , न खिलाडियों और न व्यापारियों पर ध्यान दे रही है। हरियाणा में खट्टर सरकार पूरी तरह से विफल हो चुकी है। अब आम आदमी पार्टी 2024 में भ्रष्टाचारी भाजपा सरकार को प्रदेश की सत्ता से उखाड़ फेंकने के लिए तैयार है। आम आदमी पार्टी हरियाणा में दिल्ली और पंजाब की तर्ज पर मुफ्त बिजली-पानी, अच्छे स्कूल-अस्पताल और युवाओं को युवाओं को बिना खर्ची पर्ची के रोजगार देना चाहती है।

Around The Web

Uttar Pradesh

National