Model Divya Murder: मॉडल दिव्या पाहुजा की मौत के मामले में सामने आया बड़ा नाम, हुआ चौंकाने वाला खुलासा

  1. Home
  2. HARYANA

Model Divya Murder: मॉडल दिव्या पाहुजा की मौत के मामले में सामने आया बड़ा नाम, हुआ चौंकाने वाला खुलासा

 मॉडल दिव्या पाहुजा की मौत के मामले में सामने आया बड़ा नाम, हुआ चौंकाने वाला खुलासा 👇


 पुलिस जांच में सामने आया कि आरोपी ने दूसरी प्रेमिका से दिव्या की लाश को ठिकाने लगाने और उसके सबूत मिटाने में मदद करने के लिए कहा था,

लेकिन उसने साफ इनकार कर दिया था। पुलिस अब इस युवती को सरकारी गवाह बनाने की तैयारी कर रही है।

मॉडल दिव्या पहुजा की हत्या के बाद होटल मालिक व सीसीटीवी फुटेज के आधार पर एसआईटी की एक टीम नजफगढ़ में रहने वाली युवती तक पहुंची है।

छानबीन में पता चला कि युवती फूड डिलिवरी के काम से जुड़ी थी। उस दौरान उसकी अभिजीत से मुलाकात हुई थी। 

उसके बाद दोनों में दोस्ती हो गई थी। दिव्या पहुजा की हत्या के बाद होटल मालिक ने युवती से मदद मांगी थी।

पुलिस से पूछताछ में युवती ने कमरे में शव देखने की बात को स्वीकार कर लिया है। पुलिस की छानबीन के दौरान यह पता चला है कि वह साइको था। 

आवेश में उसने दिव्या को गोली मार दी। उसकी मौत हो जाने के बाद सबूत नष्ट करने के लिए लोगों से मदद मांगी।

11 बजे रात को शव बाहर निकल जाने के बाद उसने नशे का एक डोज और लिया था। जब पुलिस उसके पास पहुंची तो वह बेसुध था।

 

होटल मालिक की दोस्ती गैंगस्टर बिंदर गुर्जर से 16 साल पुरानी है। गैंगस्टर से दोस्ती के कारण संदिग्ध लोगों का उसके पास आना-जाना लगा रहता था।

लोगों को अपने होटल में ठहराने में उनकी मदद करता था। सेक्टर 14 थाने में उसके खिलाफ किसी को जबरन बंधक बनाने का मामला बहुत पहले से दर्ज है।

पुलिस को पता चला है कि गैंगस्टर के गुर्गों की ओर से ही उसे अवैध पिस्तौल मिली थी।

मॉडल दिव्या पहुजा की हत्या के बाद होटल मालिक ने मिटाए थे सबूत
गैंगस्टर संदीप गाडौली की प्रेमिका दिव्या पहुजा की हत्या के बाद शव ठिकाने लगवाने से पहले होटल संचालक अभिजीत ने बीएमडब्ल्यू कार से ओल्ड दिल्ली रोड पर जाकर हत्या से जुड़े सबूत को नष्ट किया था।

पांच दिन की पुलिस रिमांड के दौरान चल रही छानबीन में होटल मालिक अभिजीत ने पुलिस को बताया कि उसने दिव्या का पहचान पत्र, उसका एपल का मोबाइल व वारदात में इस्तेमाल पिस्टल को ओल्ड दिल्ली रोड पर कहीं फेंका था। 

 

दिव्या पहुजा की हत्या के बाद पुलिस आयुक्त विकास अरोड़ा ने उसकी जांच के लिए एसआईटी का गठन किया है।

एसआईटी की ओर से गठित चार टीमों में दो टीमें पंजाब में अलग-अलग ठिकानों पर छापा मार रहीं हैं, जबकि दो टीमें यहां पर जांच में जुटी हैं।

पुलिस की एक टीम ने दिल्ली के साउथ एक्सटेंशन में उसके आवास पर सर्च किया तो दूसरी टीम ओल्ड दिल्ली रोड पर होटल मालिक के बताए स्थानों पर सर्च कर रही है।

उसे अब तक हत्या से जुड़ा कोई सबूत नहीं मिला है।

मॉडल दिव्या पहुजा की हत्या के बाद उसके शव को ठिकाने लगाने के बाद बलराज गिल शव को ले जाने के लिए घर पर खड़ी मिनी कूपर कार से गुरुग्राम आया था।

जिसे उसने सेक्टर 14 थाना क्षेत्र यानी होटल के आसपास लावारिस हालत में छोड़ दिया था।

होटल से कुछ दूरी पर शव को बीएमडब्ल्यू की डिग्गी में रखकर अभिजीत उसके पास ले गया था। वहां से अभिजीत पैदल होटल में आया था,

जबकि उसकी बीएमडब्ल्यू में दिव्या का शव लेकर बलराज चला गया था। बीएमडब्ल्यू को पुलिस पटियाला से लावारिस हालत में बरामद कर चुकी है।

अभिजीत के घर पर ही रहता था बलराज
पुलिस की छानबीन के दौरान पता चला है कि होटल मालिक की पत्नी एक निजी कंपनी में काम करती है। उससे अभिजीत के संबंध अच्छे नहीं हैं। उसकी बेटी शादी करके हांगकांग में सेटल हो गई है।

पुलिस जांच में पता चला है कि बलराज गिल और अभिजीत की पत्नी की लगातार मोबाइल पर बात होती थी। बलराज गिल अभिजीत के घर में मालिक की तरह रहता था। साथ ही पंजाब से आने वाले सूखे नशे को अपने दोस्त अभिजीत को उपलब्ध कराता था।

Around The Web

Uttar Pradesh

National