Model Divya Murder: मॉडल दिव्या की लाश का अब तक सुराग नहीं, पुलिस के छूटे पसीने

  1. Home
  2. HARYANA

Model Divya Murder: मॉडल दिव्या की लाश का अब तक सुराग नहीं, पुलिस के छूटे पसीने

haryfy ;khfb ;dfvjkb l;dv ljb vjbv; 'vrj vijdfvdfh  ehjcb;, jb


 

राजपुरा, घन्नौर, गंडाखेड़ी, पसियाना व समाना में नहर में मॉडल के शव की तलाश की गई। फिलहाल गोताखोरों को कोई सफलता नहीं मिली। ड्राइवर्स क्लब के प्रधान शंकर भारद्वाज के मुताबिक रविवार को पातड़ां व खन्नौरी में नहर में शव की तलाश की जाएगी। 

गौरतलब है कि गुरुग्राम के होटल में मॉडल की हत्या के बाद लाश को बीएमडब्लयू गाड़ी में डालकर ले जाया गया था।

वही बीएमडब्लयू गाड़ी बीते दिनों पटियाला में नए बस स्टैंड की पार्किंग में खड़ी मिली थी। इसकी पिछली सीट के नीचे बिछे पायदान पर खून के धब्बे भी मिले थे, लेकिन लाश नहीं मिली। साथ ही एक एनक भी मिली थी।

पटियाला पुलिस को शक है कि हो सकता है कि होटल मालिक के साथियों ने मॉडल की लाश को भी भाखड़ा नहर में ही फेंक दिया हो।

इसके चलते भाखड़ा नहर में तलाश की जा रही है। क्लब प्रधान शंकर भारद्वाज ने बताया कि बड़ी नदी में भी तलाश की गई है, लेकिन वहां भी लाश नहीं मिली है।

उधर, डीएसपी (डी) सुख अमृत सिंह रंधावा ने कहा कि तलाश जारी है। पुलिस हर तरह से मुस्तैद है।

मॉडल दिव्या पहुजा की हत्या के बाद होटल मालिक ने मिटाए थे सबूत
गैंगस्टर संदीप गाडौली की प्रेमिका दिव्या पहुजा की हत्या के बाद शव ठिकाने लगवाने से पहले होटल संचालक अभिजीत ने बीएमडब्ल्यू कार से ओल्ड दिल्ली रोड पर जाकर हत्या से जुड़े सबूत को नष्ट किया था।

पांच दिन की पुलिस रिमांड के दौरान चल रही छानबीन में होटल मालिक अभिजीत ने पुलिस को बताया कि उसने दिव्या का पहचान पत्र, उसका एपल का मोबाइल व वारदात में इस्तेमाल पिस्टल को ओल्ड दिल्ली रोड पर कहीं फेंका था। 

दिव्या पहुजा की हत्या के बाद पुलिस आयुक्त विकास अरोड़ा ने उसकी जांच के लिए एसआईटी का गठन किया है।

एसआईटी की ओर से गठित चार टीमों में दो टीमें पंजाब में अलग-अलग ठिकानों पर छापा मार रहीं हैं, जबकि दो टीमें यहां पर जांच में जुटी हैं।

पुलिस की एक टीम ने दिल्ली के साउथ एक्सटेंशन में उसके आवास पर सर्च किया तो दूसरी टीम ओल्ड दिल्ली रोड पर होटल मालिक के बताए स्थानों पर सर्च कर रही है। उसे अब तक हत्या से जुड़ा कोई सबूत नहीं मिला है।

मॉडल दिव्या पहुजा की हत्या के बाद उसके शव को ठिकाने लगाने के बाद बलराज गिल शव को ले जाने के लिए घर पर खड़ी मिनी कूपर कार से गुरुग्राम आया था।

जिसे उसने सेक्टर 14 थाना क्षेत्र यानी होटल के आसपास लावारिस हालत में छोड़ दिया था।

होटल से कुछ दूरी पर शव को बीएमडब्ल्यू की डिग्गी में रखकर अभिजीत उसके पास ले गया था।

वहां से अभिजीत पैदल होटल में आया था, जबकि उसकी बीएमडब्ल्यू में दिव्या का शव लेकर बलराज चला गया था। बीएमडब्ल्यू को पुलिस पटियाला से लावारिस हालत में बरामद कर चुकी है।

अभिजीत के घर पर ही रहता था बलराज
पुलिस की छानबीन के दौरान पता चला है कि होटल मालिक की पत्नी एक निजी कंपनी में काम करती है।

उससे अभिजीत के संबंध अच्छे नहीं हैं। उसकी बेटी शादी करके हांगकांग में सेटल हो गई है।

पुलिस जांच में पता चला है कि बलराज गिल और अभिजीत की पत्नी की लगातार मोबाइल पर बात होती थी।

बलराज गिल अभिजीत के घर में मालिक की तरह रहता था। साथ ही पंजाब से आने वाले सूखे नशे को अपने दोस्त अभिजीत को उपलब्ध कराता था।

गैंगस्टर संदीप की बहन ने उठाए सवाल
गैंगस्टर संदीप गाडौली की बहन ज्योतसना ने दिव्या पहुजा की हत्या के बाद सवाल उठाया है कि उसकी हत्या का सबसे अधिक फायदा किसे मिलेगा।

उसकी हत्या के बाद जेल में बंद गैंगस्टर बिंदर गुर्जर व उसके भाई की हत्या के आरोपी पुलिस के लोगों को इसका फायदा मिलेगा।

कमिश्नरेट की पुलिस अगर चाहती तो दिव्या की हत्या के बाद उसके शव को बरामद कर लेती, मगर उसकी लापरवाही के कारण उसका शव शहर से बाहर गया।
 

Around The Web

Uttar Pradesh

National