Model Murder: मॉडल की बहन ने किया बड़ा खुलासा, मां-बाप को शेयर करती थी यह बात

  1. Home
  2. HARYANA

Model Murder: मॉडल की बहन ने किया बड़ा खुलासा, मां-बाप को शेयर करती थी यह बात

मॉडल की बहन ने किया बड़ा खुलासा


 हरियाणा में गुरुग्राम की मॉडल दिव्या पाहुजा की लाश हत्या के 6 दिन बाद भी नहीं मिली है। इस बीच उसकी बहन नैना पाहुजा ने नया खुलासा किया है।

बहन के मुताबिक जेल से छुटने के बाद ही दिव्या की जान को खतरा था। इसलिए वह ना केवल उससे, बल्कि मां सोनिया और पिता की लाइव लोकेशन से हर समय जुड़ी रहती थी।

नैना ने कहा कि 2 जनवरी की दोपहर आखिरी बार दोपहर 12 बजे तक भी हमें उसकी लोकेशन का पता था। इसके बाद शाम 6 बजे तक दिव्या का कोई कॉल और मैसेज नहीं आया तो मैंने उसकी लोकेशन ट्रैक की।

उसके सैमसंग मोबाइल की आखिरी लोकेशन दिल्ली में एम्स के पास साउथ एक्स की आ रही थी। जबकि I-PHONE की लोकेशन अभिजीत के गुरुग्राम स्थित होटल सिटी सिटी पॉइंट के पास की थी।

दिव्या की होटल के अंदर अभिजीत ने हत्या कर दी थी। दिव्या और अभिजीत दोनों 3 माह से संपर्क में थे। हत्या के बाद अभिजीत तो पकड़ा गया, लेकिन उसका दोस्त बलराज और रवि दोनों फरार है।

दिव्या की होटल के अंदर अभिजीत ने हत्या कर दी थी। दिव्या और अभिजीत दोनों 3 माह से संपर्क में थे। हत्या के बाद अभिजीत तो पकड़ा गया, लेकिन उसका दोस्त बलराज और रवि दोनों फरार है।

अभिजीत ने गुमराह किया
नैना पाहुजा ने ये भी बताया कि दिव्या को लेकर वह काफी ज्यादा परेशान हो गई थी। इसके बाद उसने अभिजीत को कॉल की। अभिजीत ने उसे गुमराह कर दिया और बताया कि दिव्या उसी के साथ थी, लेकिन साढ़े 11 बजे के करीब वह घर के लिए निकल गई।

नैना कहा कि वह खुद अपनी गाड़ी से शाम करीब साढ़े 7 दिल्ली साउथ एक्स वाली लोकेशन पर पहुंची। ये अभिजीत के घर की लोकेशन थी। जहां पर पहले से बलराज गिल था। बलराज गिल ने भी उसे बताया कि मैं खुद परेशान हूं, वो मेरा भी फोन नहीं उठा रही है। उसने अपने मोबाइल में मुझे दिखाया कि उसने दो बार कॉल की हुई थी।

उसके पास दिव्या का एक फोन था, जिसे उसने मुझे दिया। इसके बाद मैं वापस गुरुग्राम सिटी पॉइंट होटल पहुंची तो वहां नशे की हालत में अभिजीत बाहर निकला और मेरी गाड़ी से टकराया। उसने मुझे कार का शीशा नीचे करने का इशारा किया।

इसके बाद उसने मुझे उसका आधार कार्ड और पेन कार्ड दिया। हम अंदर होटल में गए। दिव्या का सैमसंग फोन तो पुलिस को दे दिया, लेकिन आई फोन का अभी तक कुछ पता नहीं चल पाया है।

दिव्या की लाश को BMW में लेकर जाने वाला बलराज गिल।

दिव्या की लाश को BMW में लेकर जाने वाला बलराज गिल।

लाश ठिकाने लगाने में तीसरा शख्स भी शामिल
दिव्या की हत्या के बाद होटल मालिक अभिजीत ने उसकी लाश को ठिकाने लगाने के लिए अपने साथी पंजाब के मोहाली निवासी बलराज गिल और रवि बांगा को 10 लाख रुपए और अपनी BMW कार दी थी। इसी कार में आरोपी दिव्या की लाश को ठिकाने लगाने लेकर गए। कार पंजाब के पटियाला से बरामद हो चुकी है। लेकिन दिव्या की लाश अभी तक नहीं मिली है।

वहीं दूसरी तरफ इस सनसनीखेज मर्डर केस की जांच कर रही स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम (SIT) को एक और अहम सुराग लगा है। SIT सूत्रों के अनुसार, दिव्या की लाश को ठिकाने लगाने में बलराज गिल और रवि के अलावा तीसरा शख्स भी था। हालांकि अभी ये पता नहीं चल पाया है कि ये तीसरा शख्स है कौन?

उदयपुर में पुलिस से पहले निकले आरोपी
दिव्या के मर्डर केस में गुरुग्राम पुलिस होटल मालिक अभिजीत और दो अन्य लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है, लेकिन अभी दिव्या की लाश को ठिकाने लगाने वाले बलराज गिल और रवि बांगा का सुराग नहीं लगा है। दोनों की आखिरी लोकेशन पटियाला की मिली थी।

इस बीच पुलिस टीमों को पता चला कि दोनों पटियाला से एक अन्य कार में राजस्थान के उदयपुर पहुंचे। यहां पर वे एक होटल में ठहरे हुए थे। पुलिस टीमों को जब तक उनकी लोकेशन मिली आरोपी वहां से निकल चुके थे।

संदीप गाड़ोली की हत्या में आरोपी और चश्मदीद थी
दिव्या पाहुजा गुरुग्राम के नामी गैंगस्टर रहे संदीप गाडोली की गर्लफ्रेंड थी। संदीप की फरवरी 2016 में मुंबई के एक होटल में एनकाउंटर के दौरान मौत हो गई थी। उस वक्त दिव्या पाहुजा होटल में ही थी। ये एनकाउंटर गुरुग्राम क्राइम ब्रांच की टीम ने किया था। बाद में एनकाउंटर पर सवाल खड़े हुए।

मुंबई पुलिस ने अपनी जांच में इसे फेक मानते हुए गुरुग्राम पुलिस के जवानों के अलावा दिव्या पाहुजा, उसकी मां और गुरुग्राम के दूसरे गैंगस्टर बिंदर गुर्जर को गिरफ्तार किया है। इस केस में 7 साल जेल में रहने के बाद 25 जुलाई 2016 को दिव्या बॉम्बे हाईकोर्ट से जमानत मिलने के बाद जेल से छुटी थी।

Around The Web

Uttar Pradesh

National