किसानों के मुद्दे पर हरियाणा और पंजाब सरकार आमने-सामने, अनिल विज बोले- किसानों को भड़का रहे अमरिंदर सिंह

किसानों के मुद्दे पर हरियाणा और पंजाब सरकार आमने-सामने, अनिल विज बोले- किसानों को भड़का रहे अमरिंदर सिंह

किसानों के मुद्दे पर हरियाणा और पंजाब सरकार आमने-सामने, अनिल विज बोले- किसानों को भड़का रहे अमरिंदर सिंह

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने किसानों से कहा कि उन्हें आंदोलन करना है तो वह पंजाब के बजाय दिल्ली व हरियाणा में जाकर करें। पंजाब की धरती पर वह ऐसा कुछ न करें, जिससे राज्य को आर्थिक नुकसान हो। होशियारपुर में एक कार्यक्रम के दौरान दिए उनके संबोधन के बाद सियासत गरमा गई है और हरियाणा के कई मंत्रियों ने कैप्टन को घेरने की कोशिश की है। हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज ने कहा कि पंजाब के मुख्यमंत्री ने ही किसानों को भड़काया है तो हरियाणा के कृषि मंत्री जेपी दलाल ने भी इसी बहाने एसवाईएल के मुद्दे को उछाल दिया है। होशियारपुर में एक सरकारी कॉलेज का शिलान्यास करते हुए कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा है कि राज्य में 113 स्थानों पर किसानों का आंदोलन चल रहा है। इससे राज्य की आर्थिक स्थिति पर असर पड़ रहा है। अनिल विज ने कैप्टन को घेरा
हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज ने ट्वीट कर कहा कि पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह जी का बयान बहुत ही गैर जिम्मेदाराना है। इससे साबित होता है कि किसानों को भड़काने का काम अमरिंदर सिंह ने ही किया है। हरियाणा के कृषि मंत्री जेपी दलाल भी इस जुबानी जंग में कूद गए हैं। उन्होंने कहा है कि तमाम किसान संगठन पंजाब के हैं। हम पहले से कहते आ रहे हैं कि यह कांग्रेस द्वारा प्रायोजित आंदोलन है। आज पंजाब के मुख्यमंत्री ने भी इस बात को मान लिया है, इसलिए खुले तौर पर मैं पंजाब के मुख्यमंत्री से अपील करता हूं कि एक देशभक्त परिवार का होने के चलते वे दिल्ली हरियाणा और देश के बारे में सोचें और किसान संगठनों को समझाएं।