हिसार / 7 महीने में ही बंद हो गई एयर टैक्सी

हिसार / 7 महीने में ही बंद हो गई एयर टैक्सी

हिसार / 7 महीने में ही बंद हो गई एयर टैक्सी:5 हजार मीटर की दृश्यता का नियम आया आड़े, संचालक बोले-नहीं मिल रहा DGCA और एयरपोर्ट ऑथोरिटी का सहयोग


हिसार का महाराजा अग्रसेन इंटरनेशनल एयरपोर्ट बिना हवाई सेवा वाला एयरपोर्ट बन गया है। इस एयरपोर्ट से अब यात्रियों को कोई हवाई सेवा नहीं मिल पाएगी। हिसार से तीन अलग-अलग रूट पर चल रही एयर टैक्सी सेवा 7 महीने के भीतर ही बन्द कर दी गई है। इस सेवा के बंद होने के पीछे एक ओर 5 हजार मीटर की दृश्यता का नियम आड़े आया, वहीं इस स्टार्टअप के संचालक ने DGCA और एयरपोर्ट ऑथोरिटी पर सहयोग नहीं करने के आरोप लगाया है।
बता दें कि इसी साल 14 जनवरी को मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने हरी झंडी दिखाकर चंडीगढ़ से हिसार रूट पर एयर टैक्सी को रवाना किया था। तब दावा किया गया था कि यह एयर सेवा देश की पहली एयर टैक्सी सेवा है। उस समय हिसार-चंडीगढ़ के बाद देश में 35 रूटों पर एयर टैक्सी चलाने की योजना प्रस्तावित थी। फिलहाल हिसार से चंडीगढ़, धर्मशाला व देहरादून रूट पर एयर टैक्सी सेवा चल रही थी। इस एयर टैक्सी में पायलट समेत पांच लोग यात्रा कर सकते हैं। अब तक महाराजा इंटरनेशनल एयरपोर्ट से चंडीगढ़, धर्मशाला, देहरादून रूट पर एयर टैक्सी सेवा चल रही थी। एयर टैक्सी में प्रति यात्री 1500 किराया लिया जाता था और 40 मिनट में फ्लाइट चंडीगढ़ पहुंच जाती थी।