मीरा' बनकर कृष्ण भक्ति में लीन होना चाहती हैं IPS भारती अरोड़ा, सरकार से मांगा वॉलेंटरी रिटायरमेंट

मीरा' बनकर कृष्ण भक्ति में लीन होना चाहती हैं IPS भारती अरोड़ा, सरकार से मांगा वॉलेंटरी रिटायरमेंट

मीरा' बनकर कृष्ण भक्ति में लीन होना चाहती हैं IPS भारती अरोड़ा, सरकार से मांगा वॉलेंटरी रिटायरमेंट

 18 फरवरी, 2007 को जब दिल्ली से अटारी जा रही रेलगाड़ी में बम धमाका हुआ था उसकी जांच में हरियाणा कैडर की आईपीएस और तत्कालीन एसपी (रेलवे पुलिस) भारती अरोड़ा (IPS Bharti Arora) ने अहम भूमिका अदा की थी। वहीं भारती अरोड़ा अब अंबाला रेंज की आईजी हैं लेकिन अब वह आगे की अपनी जिंदगी कृष्ण भक्ति में बिताना चाहती हैं |आईजी भारती अरोड़ा (Bharti Arora) ने सरकार से स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति के लिए आवेदन किया है. वो पुलिस की नौकरी से तुरंत वीआरएस चाहती हैं |भारती अरोड़ा प्रदेश की पहली महिला अफसर है जिन्होंने वीआरएस के लिए अप्लाई किया है. उन्होंने तीन महीने के नोटिस पीरियड से भी छूट देने का आग्रह किया.  फिलहाल भारती के आवेदन को लेकर कोई फैसला नहीं हुआ है. लेकिन कई वरिष्ठ पुलिस अधिकारी उनको समझाने बुझाने में लगे हैं |पचास वर्ष की हो चुकीं भारती का विवाह हरियाणा कैडर के आइपीएस विकास अरोड़ा से हुआ है

श्रीकृष्ण की भक्ति में बिताना चाहती हैं शेष जीवन

उन्होंने कहा कि पुलिस सेवा उनके लिए गर्व और जुनून रही है. वह अब जीवन का लक्ष्य हासिल करना चाहती हैं और गुरुनानक देव, चैतन्य महाप्रभु, कबीरदास, तुलसीदास, सूरदास, मीराबाई की राह चलकर अपना शेष जीवन प्रभु श्रीकृष्ण की भक्ति में बिताना चाहती हैं.