आज होगा शहीद सुरेंद्र कालीरामणा का अंतिम संस्कार:राजकीय सम्मान के साथ दी जाएगी अंतिम विदाई; दोपहर बाद गांव पहुंचेगा पार्थिव शरीर, सर्च ऑपरेशन में लगी थी गोली

आज होगा शहीद सुरेंद्र कालीरामणा का अंतिम संस्कार:राजकीय सम्मान के साथ दी जाएगी अंतिम विदाई; दोपहर बाद गांव पहुंचेगा पार्थिव शरीर, सर्च ऑपरेशन में लगी थी गोली

आज होगा शहीद सुरेंद्र कालीरामणा का अंतिम संस्कार:राजकीय सम्मान के साथ दी जाएगी अंतिम विदाई; दोपहर बाद गांव पहुंचेगा पार्थिव शरीर, सर्च ऑपरेशन में लगी थी गोली

कश्मीर के उरी क्षेत्र में सर्च ऑपरेशन के दौरान आतंकवादियों की गोली लगने से शहीद हुए सैनिक सुरेंद्र कालीरामणा का पार्थिव शरीर आज गांव खरकड़ी पहुंचेगा। दोपहर बाद सुरेंद्र कालीरामणा का राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया जाएगा।हिसार निवासी 24 वर्षीय सुरेंद्र कालीरामणा 18 साल की उम्र में जाट रेजिमेंट में सिपाही भर्ती हुए थे। सुरेंद्र 20 दिन की छुट्टी के बाद 5 अगस्त को ही ड्यूटी पर लौटे थे। शनिवार देर रात को सेना के सर्च ऑपरेशन के दौरान सुरेंद्र को गोली लग गई, जिससे उनकी मौत हो गई।सुरेंद्र कालीरामणा की 8 महीने पहले ही जींद के खटकड़ गांववासी प्रीति के साथ शादी हुई थी। सुरेंद्र के 60 वर्षीय पिता बलबीर सिंह गांव में ही खेतबाड़ी करते हैं, जबकि उनकी मां का कई साल पहले देहांत हो चुका है। सुरेंद्र का बड़ा भाई वीरेंद्र प्राइवेट नौकरी करता है।