मेरा बेटा कहीं फरार नहीं हुआ, मुझे फंसाया जा रहा : अजय मिश्रा

मेरा बेटा कहीं फरार नहीं हुआ, मुझे फंसाया जा रहा : अजय मिश्रा

मेरा बेटा कहीं फरार नहीं हुआ, मुझे फंसाया जा रहा : अजय मिश्रा

लखीमपुर खीरी : यूपी में हुए लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में केंद्रीय गृह राज्यमंत्री और सांसद सांसद अजय मिश्रा टेनी ने एक टीवी चैनल को दिए बयान में कहा कि राजनीतिक द्वेष की भावना से मुझे और मेरे बेटे को फंसाया जा रहा है।

बता दे कि केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा शुक्रवार को लखीमपुर पुलिस के सामने बयान दर्ज कराने के लिए पेश नहीं हुए।

मीडिया में आये बयान से पता चला कि अजय मिश्रा ने कहा कि इस हिंसा की निष्पक्ष की जांच कराई जा रही है. हमारे पास कई ऐसे सबूत हैं, जिससे यह साबित होता है कि हमारा बेटा और मै घटनास्थल पर मौजूद नहीं थे.

पुलिस सूत्रों के अनुसार पुलिस आशीष मिश्रा के मोबाइल फोन को ट्रैक कर रही थी और उसकी लोकेशन गुरुवार को उत्तर प्रदेश-नेपाल सीमा पर गौरीफंटा के पास मिली।

हालांकि, वह स्पष्ट रूप से अपना स्थान बदल रहे हैं, संभवत: वह अब उत्तराखंड के बाजपुरा में हैं।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा, "हमने उत्तराखंड और नेपाल में अपने समकक्षों को सतर्क कर दिया है और उसकी तलाश के लिए टीमों का गठन किया गया है।"

इस बीच, लखीमपुर के शाहपुरा इलाके में उनके आवास पर कार्यकर्ताओं ने कहा कि वह 'दो दिन पहले' घर से निकले थे। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने शुक्रवार को कहा कि अजय मिश्रा टेनी के नेपाल के साथ पुराने संबंध हैं और अब इस मामले में हस्तक्षेप करना केंद्र सरकार पर निर्भर है।

अजय मिश्रा ने आगे कहा कि मेरा बेटा कहीं फरार नहीं हुआ है. पुलिस जब बुलाएगी वह अपना बयान दर्ज कराएगा. गृह मंत्री अमित शाह जी से भी इस विषय पर बात हुई है. आज मुख्यमंत्री जी से भी इस विषय पर बात होगी. मेरा बेटा इस मामले में आरोपी नहीं है