Income Tax Raid: इनकम टैक्स विभाग की बड़ी कार्यवाही, 150 पुलिसवालों सहित 350 लोगों के घर की छापेमारी

  1. Home
  2. NATIONAL

Income Tax Raid: इनकम टैक्स विभाग की बड़ी कार्यवाही, 150 पुलिसवालों सहित 350 लोगों के घर की छापेमारी

news


Income Tax Raid: इनकम टैक्स विभाग द्वारा दिल्ली -एनसीआर में एक बड़ी सर्च ऑपरेशन को अंजाम देने के बाद मंगलवार को सर्च ऑपरेशन पूरा हुआ। सर्च ऑपरेशन पूरा होने के बाद इनकम टैक्स के एक वरिष्ठ सूत्र अधिकारी ने बताया कि इस छापेमारी के दौरान तीन प्रमुख बिल्डर ग्रुप के पास से कई ऐसे संदग्ध लेनदेन, बैंकिंग सहित नकदी लेनदेन के जिस तरह से दस्तावेज और सबूत मिले हैं।

उसको देखकर ऐसा शुरुआती अनुमान है कि 400 करोड़ से ज्यादा की टैक्स चोरी के मामलों को इन बिल्डर ग्रुप के द्वारा अंजाम दिया है। इस मामले में जब तफ्तीश का दायरा जैसे-जैसे आगे बढ़ेगा टैक्स चोरी की रकम में और ज्यादा खुलासा हो सकता है। इनकम टैक्स विभाग के गुरुग्राम जोन ने दिल्ली-एनसीआर में जिन बिल्डर ग्रुप और एजुकेशन सोसाइटी के खिलाफ चार दिनों तक सर्च ऑपरेशन को अंजाम दिया गया था। उसके नाम प्रमुख तौर पर इस प्रकार से है।

1. ROF Group
2. ORRIS Group
3. PIONEER Builders Group
4. RPS Education Society

सर्च ऑपरेशन के दौरान क्या मिला?
सर्च ऑपरेशन के दौरान 10 करोड़ की ज्वेलरी, 4 करोड़ की नकदी सहित काफी डॉक्यूमेंट भी इनकम टैक्स ने जब्त किया है। इनकम टैक्स की टीम जब 19 सितंबर दिन मंगलवार को सर्च लोकेशन से रवाना हो रही थी। उस वक्त अपने साथ काफी दस्तावेजों को भी जब्त करके अपने साथ लेकर गई है।
इनकम टैक्स की टीम तफ्तीश करने के दौरान इन बिल्डर ग्रुप के मालिकों के पास से करीब 10 करोड़ की ज्वेलरी, 4 करोड़ कैश, काफी मात्रा में बैंकिंग लेन देन, हिसाब-किताब वाली डायरी, इलेक्ट्रॉनिक एविडेंस को जब्त करके लेकर गई है।

इस सर्च ऑपरेशन के दौरान कई ऐसे दस्तावेजों और सबूतों को भी जमा किया गया है, जिसे देखकर ऐसा प्रतित होता है की आपीएस एजुकेशन सोसाइटी के द्वारा प्राप्त डोनेशन की रकम को कई बिल्डर के मार्फत प्रॉपर्टी में निवेश किया गया और मनी लॉन्ड्रिंग के मामले को अंजाम दिया गया। ये अपने आप में मनी लॉन्ड्रिंग का एक बहुत ही बड़ा मामला है। इसे इनकम टैक्स की टीम विस्तार से खंगालने वाली है।
सूत्र तो ये भी बताते हैं की आरपीएस सोसाइटी के द्वारा इन तीनों बिल्डर ग्रुप आरओएफ ग्रुप , ओरिस ग्रुप और पायोनियर बिल्डर ग्रुप सहित सहित कई अन्य बिल्डर से लैंड सहित अन्य प्रॉपर्टी लिया है, जिस मामले में अब कई लोगों से पूछताछ करने के बाद विस्तार से खंगाला जाएगा। करीब 150 अर्धसैनिक बलों के सहयोग से 200 इनकम टैक्स विभाग के अधिकारियों ने इस सर्च ऑपरेशन को अंजाम दिया है।
इनकम टैक्स की टीम के द्वारा चार दिनों तक इस सर्च ऑपरेशन के दौरान महत्वपूर्ण सबूतों और दस्तावेजों को खंगाला गया , इस दौरान करीब 150 अर्धसैनिक बलों के सहयोग से 200 इनकम टैक्स विभाग के अधिकारियों ने इस सर्च ऑपरेशन के दौरान मुख्य तौर पर काम कर रहे थे।

कहां पड़ी छापेमारी?

इस मामले में बिल्डर कंपनियों से जुड़े प्रमुख निदेशकों, एमडी सहित अन्य लोगों की अगर बात करें तो कई लोगों के आवास सहित अन्य लोकेशन पर सर्च ऑपरेशन को अंजाम दिया गया, जो प्रमुख तौर पर इस प्रकार से हैं -आरओएफ ग्रुप के मंगल सेन मित्तल, राहुल मित्तल, मोहित और अभिषेक मित्तल, इसके साथ ही ओरिस बिल्डर ग्रुप के विजय गुप्ता , अमित गुप्ता , सुमित गुप्ता और पायोनियर बिल्डर ग्रुप के आशिष पेरिवाल , महावीर प्रसाद पेरिवाल, मनीष पेरिवाल के यहां भी सर्च ऑपरेशन को अंजाम दिया गया । पायोनियर बिल्डर ग्रुप से संबंधित कोलकाता में भी सर्च ऑपरेशन को अंजाम दिया गया।

Around The Web

Uttar Pradesh

National