प्रदेश के किसानों के साथ पोर्टल पोर्टल खेल रही भाजपा सरकार: डॉ. सुशील गुप्ता

  1. Home
  2. Politics

प्रदेश के किसानों के साथ पोर्टल पोर्टल खेल रही भाजपा सरकार: डॉ. सुशील गुप्ता

sushil gupta

k9media.live


आम आदमी पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष और कुरुक्षेत्र लोकसभा से "इंडिया" गठबंधन के तहत आम आदमी पार्टी के प्रत्याशी डॉ . सुशील गुप्ता और पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस के राष्ट्रीय महामंत्री चौधरी रणदीप सुरजेवाला ने वीरवार को कैथल, चीका और पूंडरी की अनाज मंडियों का दौरा किया और आढ़तियों से मिलकर विभिन्न विषयों पर चर्चा हुई। इससे पूर्व मंडी स्थित नारायण मंदिर में पूजा-अर्चना की। उनके साथ पूर्व मंत्री और आम आदमी पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष बलबीर सैनी और डॉ. मनीष यादव, सुदीप सुरजेवाला, आदित्य सुरजेवाला, रामनिवास मित्तल, अश्वनी कुमार शौरीवाला, सचिन मित्तल, पदम सिंह लटकानिया , श्याम बहादुर, रामकुमार, मास्टर सतबीर गोयत,  सुरेश चौधरी, राज किशन मित्तल, देशराज बंसल, धर्मपाल किठवाड और विकास नेहरा मौजूद रहे। 

डॉ. सुशील गुप्ता ने कहा कि वर्तमान में भाजपा सरकार की नीतियों से प्रदेश का व्यापारी वर्ग समेत हर वर्ग पूरी तरह से त्रस्त हो चुका है और सत्ता परिवर्तन के लिए बेताब है। इसलिए कार्यकर्ताओं और सम्मानित मतदाताओं के उत्साह और समर्पण से इंडिया गठबंधन' कुरुक्षेत्र लोकसभा के साथ-साथ पूरे हरियाणा में एक शानदार जीत हासिल करेगा।भाजपा सरकार प्रदेश के लोगों के साथ पोर्टल पोर्टल खेल रही है। प्रदेश में महंगाई नंबर एक पर है, पेट्रोल, डीजल और रसोई गैस के दाम आसमान छू रहे हैं, डॉलर के मुकाबल रूपए की किमत लगातार घट रही है और आढ़त फिक्स कर दी ताकि व्यापारी आगे न बढ़ पाए। उन्होंने कहा कि जो हरियाणा में हो रहा है ऐसा दुनिया में कहीं नहीं हो रहा। भाजपा ने तो मंडियों को भी बंद कराने की सोच ली थी ये तो किसानों का भला हो कि सवा साल दिल्ली बॉर्डर पर संघर्ष करते रहे और मंडियों को बचा लिया। उन्होंने कहा कि किसानों, मजदूरों और व्यापारियों की इस लड़ाई में हम आपके साथ मजबूती से खड़े हैं।

उन्होंने कहा कि जब किसान व्यापारी मंडियों को बचाने की लड़ाई लड़ रहे थे। जब मैंने आवाज उठाई तो मुझे सदन से दो बार सस्पेंड किया। हमने हमेशा पीएम मोदी की आंख में आंख डालकर सवाल पूछे। मैं सिर्फ भाइयों और राम के सिवाए किसी से नहीं डरता। इसलिए मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि मैं आपके बीच रहूंगा और मिलकर विकास कार्य करेंगे। उन्होंने कहा कि भाजपा 24 घंटे ईडी और सीबीआई का डर दिखाती रहती है। लेकिन ये चुनाव आम जनता का है इसलिए हम डरने वाले नहीं हैं। भाजपा संविधान को तोड़ने में लगी हुई है। लेकिन इस बार इनकी ईवीएम की सेटिंग भी फेल करनी है। इसलिए इस बार हम सभी को पूरी मेहनत करनी है और हरियाणा में इंडिया गठबंधन को जीताना है और इसकी शुरूआत धर्मनगरी कुरूक्षेत्र से होगी।

उन्होंने कहा कि भाजपा जात पात और धर्म के नाम पर वोट मांगती है। लेकिन इस बार प्रदेश की जनता समझ चुकी है इसलिए भाजपा को हरियाणा में उम्मीदवार ढूंढने में भी परेशानी हो रही है। सांसद नायब सैनी क्षेत्र से हमेशा गायब रहते थे तो उसकी पत्नी ने जिला पार्षद का चुनाव लड़ा तो चौथे नंबर पर आई और नायब सैनी को मुख्यमंत्री बना दिया। उन्होंने कहा कि मैंने खटटर को भी कुरूक्षेत्र लोकसभा से चुनाव लड़ने का न्योता दिया था लेकिन भाजपा ने उसे करनाल भेज दिया। भाजपा को कुरूक्षेत्र सीट पर उम्मीदवार ही नहीं मिल रहा। लेकिन भाजपा किसी को भी भेजे हमें मिलकर उसे हराना है। उन्होंने कहा कि मैं पहले से ही सामाजिक कार्यों से जुड़ा हुआ हूं जीतने के बाद भी समाज के ही कार्य करूंगा।

कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव और राज्यसभा सांसद रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि क्या हरियाणा में कोई ऐसे सोच सकता है कि मंडी के बगैर हमारा काम चल सकता है। उन्होंने कहा कि मैं खुद आढती हूँ। आढतियों को ढाई परसेंट आढ़त मिलती है। भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने 10 सालों में कुछ नहीं किया। पिछले 10 साल में हमारी 85 मंडियों से लगभग 1100 करोड़ रूपए आढ़तियों की जेब से निकालने का काम किया। उन्होंने कहा कि पीआर जीरी का एमएसपी भाव 2203 रूपया था। ढाई पर्सेंट के हिसाब से एक किंटल पर आढ़त बनती है 55 रूपए 10 पैसे। जबकि हमें 45 रूपए 88 पैसे मिली। इसमें 9 रूपए 40 पैसे प्रति क्विंटल के हिसाब से कमी रही। कैथल मंडी में पीआर जीरी 18 लाख 75 हज़ार क्विंटल आई। इसमें आपकी आढ़त के 176 लाख रूपए कम मिले। ये सिर्फ कैथल मंडी का घाटा है। वहीँ हरियाणा की मंडियों की बात करें तो एक साल में 61 करोड़ का घाटा हो गया। 

उन्होंने कहा कि अब गेहूं की बात करें तो वर्ष 2023-24 की बात करें तो 2125 रुपए का रेट था।  इस पर आढ़त बनती है 53 रूपए 62 पैसे, जबकि हमें 46 रूपए मिली। कैथल की अनाज मंडी में 20 लाख किंटल कनक आई। इस हिसाब से कैथल अनाज मंडी के आढ़तियों को ही 142 लाख रूपए का घाटा हो गया। वहीं पूरे हरियाणा से 44 करोड़ 85 लाख का नुकसान हो गया। बीजेपी सरकार ने आढ़तियों को दोनों फसलों को मिलाकर करीब 106 करोड़ रूपए का घाटा करा दिया । वहीं 10 साल में एक हज़ार 60 करोड़ का घाटा हो गया। कांग्रेस की सरकार में हमने सभी आढ़तियों की सुनवाई की थी।

उन्होंने कहा कि बीजेपी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ मिलकर हरियाणा की मंडियों पर आक्रमण बोल रखा है। वे आपके काम धंधे को बंद करने पर तुले हुए हैं। अडानी का 100 एकड़ का साइलो नौल्था में बन रहा है, जबकि बीजेपी सरकार मंडियों को बंद कर देना चाहती है। मोदी सरकार अपने दोस्त के साइलो खुलवाकर मंडियों को बंद कर देना चाहती है। पानीपत और करनाल की मंडियां धीरे धीरे बंद हो जाएगी। अभी ढांड और पूंडरी का नंबर है, अगला नंबर कैथल और कलायत का है। उन्होंने कहा कि इस बार बजट में एक लाख करोड़ का कर्ज का प्रावधान किया गया है। इसके अनुसार उद्योगपति हमारे पैसे से साइलो खोलेंगे और मंडियों का धंधा चौपट हो जाएगा। 

उन्होंने कहा कि इससे पहले किसी भी पार्टी ने आढती का धंधा बंद करने की कोशिश नहीं की। बीजेप सरकार ने इसकी शुरुआत कर दी है। वहीं डायरेक्ट पेमेंट का नियम भी किसान विरोधी है। एक शेड बनाने में जिस सरकार को 10 साल लगे वो शहर के साथ क्या करेगी ये आप सब सोच सकते हो। मैंने हमेशा आढतियों को साथ लेकर मंडियों में व्यवस्था बनाने का काम किया। नए लोगों को भी कोई दिक्कत ना हो, इसलिए कानूनों में भी बदलाव किये गए। उन्होंने कहा कि गुप्ता जी हमारे पड़ोसी हैं और इंडिया गठबंधन के तहत सांझे उम्मीदवार है। आप और हम सबको मिलकर इनको लोकसभा तक पहुँचाना का काम करें। हम वादा करते हैं कि आपके धंधे पर कोई आंच भी नहीं आने देंगे।

Around The Web

Uttar Pradesh

National