आशिकों का अड्डा बने रोहतक के खाली पड़े बीपीएल फ़्लैट

आशिकों का अड्डा बने रोहतक के खाली पड़े बीपीएल फ़्लैट

थाना प्रभारी इंस्पेक्टर प्रहलाद सिंह के नेतृत्व में थाने के अलावा पुलिस लाइन से भी बस भरकर फोर्स को बुलाया गया था। इसमें महिला पुलिसकर्मी भी शामिल थी। सुबह दस बजे सबसे पहले सेक्टर-4 एक्सटेंशन में बने फ्लैटों पर छापेमारी की गई। जिससे वहां पर भगदड़ मच गई। फ्लैटों में रहने वाले असामाजिक तत्व ताले लगाकर वहां से भाग निकले। इसके बाद हर फ्लैट में जाकर चेकिग की गई और उसमें रहने वालों के आइडी प्रूफ आदि चेक किए गए। हैरानी की बात यह थी कि अधिकतर फ्लैटों में अवैध रूप से परिवार या फिर खिलाड़ी रहते हुए मिले। जिन्हें मालिक का नाम तक नहीं पता। सख्ती से पूछने पर बताया तो पता चला कि जिस फ्लैट में कई दिन तक ताला लगा देखा तो उसे तोड़कर फ्लैट में कब्जा कर लिया गया। एक फ्लैट में शराब पीते हुए भी कई युवक मिले, जो खिलाड़ी थे और उन्होंने भी अवैध रूप से फ्लैट पर कब्जा किया हुआ था। पुलिस ने ऐसे लोगों की लिस्ट तैयार की, जिन्हें फ्लैट खाली करने की चेतावनी दी गई। 

सेक्टर-4 एक्सटेंशन में छापेमारी के बाद पुलिस के अमले ने सनसिटी सेक्टर-34 की तरफ रूख किया। यहां पर भी स्थिति कुछ ऐसी ही मिले। फ्लैट किसी का और रह कोई अन्य रहा था। फ्लैटों के नीचे लग्जरी गाड़ियां खड़ी हुई थी। ऐसे लोगों को दो दिन का समय दिया गया कि थाने में आकर अपना पूरा ब्योरा दर्ज कराए। हालांकि यहां पर कोई ऐसा संदिग्ध मामला नहीं मिला। फिर भी सभी को हिदायत दी गई। 

अर्बन एस्टेट थाना प्रभारी इंस्पेक्टर प्रहलाद सिंह ने कहा कि लगातार मिल रही शिकायतों के बाद यह कार्रवाई की गई है। जहां पर कुछ संदिग्ध गतिविधियां मिली है। जो लोग अवैध रूप से रह रहे हैं, उनका रिकार्ड लेकर थाने में बुलाया गया। बिना रजिस्ट्रेशन के किरायेदार रखने पर फ्लैट मालिक पर भी कार्रवाई की जाएगी।

सनसिटी में छापेमारी के बाद आखिर में लाढ़ौत रोड की तरफ रूख किया गया। वहां पर भी स्थिति बदतर मिली। एक फ्लैट में कुछ युवतियां और एक युवक मिला। पुलिस को उनकी गतिविधियां संदिग्ध मिली। जिसके बाद उनकी आइडी प्रूफ चेक किए गए। युवक से भी पूछताछ की, लेकिन वह भी कुछ नहीं बता सका। इसके बाद उसे पुलिस की गाड़ी में बैठा लिया गया। संदिग्ध गतिविधियां मिलने पर युवतियों चेतावनी दी गई कि दो दिन में फ्लैट खाली कर दें। साथ ही उसके मालिक का भी ब्योरा जुटाया जा रहा है।