कुरुक्षेत्र में सो रहे 2 भाइयों को सांप ने काटा और हांसी में भी लड़की को सांप ने डसा

कुरुक्षेत्र में सो रहे 2 भाइयों को सांप ने काटा और  हांसी में भी लड़की को सांप ने डसा

(K9 Media). कुरुक्षेत्र जिले के गांव अमीन में घर पर सो रहे दो भाइयों को सांप ने काट लिया। सांप के काटने से एक बच्चे करीब 7 वर्षीय सलमान की मौत हो गई जबकि दूसरा करीब 5 वर्षीय अरमान की हालत गंभीर बनी हुई है। घटना से गांव में सनसनी मच गई। पिता व परिजनों में शोक की लहर है। धर्मनगरी के अमीन गांव में सांप के काटने से एक बच्चे सलमान की मौत हो गई दूसरे छोटे भाई अरमान की हालत गंभीर होने के चलते वह निजी अस्पताल में जिंदगी व मौत की लड़ाई लड़ रहा है। मृतक के पिता अब्दुल गफ्फार ने बताया कि सुबह देखा कि उनके उनका बड़ा बेटा सलमान बेहोश था। उसे वो डॉक्टर के पास लेकर आए तो डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। वही घर पहुंचे तो दूसरे छोटे बेटे अरमान ने भी पेट दर्द और उल्टी की शिकायत की तो उसे भी एक निजी अस्पताल लेकर गए। वही इलाज कर रहे डॉक्टर लोकेंद्र गोयल ने कहा कि यह स्नेक बाइट का मामला है

और बच्चों को करैत नामक जहरीले सांप ने काटा है जो घर में घुसकर सोए हुए लोगों को अपना शिकार बनाता है बच्चे की हालत गंभीर मगर स्थिर है। पत्रकारों से बातचीत करते हुए डा. लोकेंद्र गोयल ने कहा कि करैत सांप जहरीला सांप है। सांप के काटने के बाद तीन से चार घंटे का समय मिलता है जिसमें उपचार किया जा सकता है यदि देरी हो जाए तो बचाना मुश्किल हो जाता है। यह ज्यादातर सोये हुए व्यक्ति को काटता है। ये सांप जहां काटता है उस जगह पर दर्द नही होता है।
वहीं हांसी के उमरा रोड़ स्थित गांव प्रेम नगर के खेतों में घर बना कर रह रहे एक किसान सुनील कुमार की 15 वर्षीय लड़की स्नेहा को रात को सोते समय पैर की छोटी अंगुली पर सांप ने डस लिया। लेकिन लड़की को सांप के द्वारा डसे जाने का पता सुबह सोकर उठने के बाद उस वक्त चला जब चारपाई से उठ कर चलने लगी और उसके पैर में दर्द हुआ। जिस पर उसने परिजनों को पैर में दर्द के बारे में बताया। जिसके बाद परिजनों ने उसके पैर पर सांप के काटने का निशान देखा तो वे उसे झाड़ा लगवाने के लिए रोहनात स्थित दादी गौरी के मंदिर ले गए। लेकिन झाड़ा लगवाने के बाद भी जब लड़की की हालत बिगड़ने लगी तो भी परिजन उसे नागरिक अस्पताल लाने की बजाए झाड़ फूंक करवाने के लिए जमावड़ी गांव ले गए। लेकिन वहां भी झाड़ फूंक करवाने से लड़की को आराम नहीं मिला

और उसकी तबीयत ज्यादा बिगड़ने लगी तो परिजन दोपहर 12 बजे नागरिक अस्पताल लेकर पहुंचे। जहां चिकित्सकों ने उसकी गंभीर हालत को देखते हुए हिसार रेफर कर दिया। परन्तु नागरिक अस्पताल हिसार के चिकित्सकों ने लड़की की गंभीर हालत को देखते हुए मेडिकल कॉलेज अग्रोहा रेफर कर दिया जहां लड़की की हालत गंभीर बनी हुई है। स्नेहा के पिता सुनील कुमार ने बताया कि उसने रात को करीब 12 बजे घर में घुसे सांप को देख लिया था और वह किसी को काट ना ले इसलिए रात को उसे मार भी दिया था। परन्तु उसे नहीं पता था कि वह उसकी लड़की को काट चुका है। सुबह 6 बजे जब उसकी लड़की चारपाई से उठ कर चलने लगी तो उस पैर की अंगुली में दर्द हुआ और उसने पैर दर्द के बारे में बताया तो उन्हें पता चला कि उनकी लड़की स्नेहा पैर पर सांप के काटने से बने निशान को देखकर पता चला कि रात को सांप ने उसे काट लिया है। जिस पर वे उसे उपचार हेतु दादी गौरी के मंदिर व जमावड़ी गांव ले कर गए थे। लेकिन उसकी लड़की की तबीयत ज्यादा बिगड़ने लगी तो उपचार हेतु नागरिक अस्पताल लेकर आए हैं।