पुलिस टीम पर हमलाकर बदमाश को छुडा ले गए, हमले में एएसआई समेत तीन पुलिसकर्मी घायल

पुलिस टीम पर हमलाकर बदमाश को छुडा ले गए, हमले में एएसआई समेत तीन पुलिसकर्मी घायल

पुलिस टीम पर हमलाकर बदमाश को छुडा ले गए, हमले में एएसआई समेत तीन पुलिसकर्मी घायल

फरीदाबाद

धौज थाना क्षेत्र के गांव कुरैशीपुर में एक लुटेरे को पकड़कर ला रही क्राइम ब्रांच एनआईटी की टीम पर बदमाश के परिजनों और ग्रामीणों ने हमला बोल दिया और पकडुे गए लुटेरे को पुलिस से छुड़ा ले गए। इस घटना में क्राइम ब्रांच के एएसआई समेत तीन पुलिसकर्मी घायल हो गए। हमलावरों ने पुलिस टीम को दौड़ा दौड़ाकर पीटा। यही नहीं पुलिस के चंगुल से छूटे लुटेरे ने घर में रखे तमंचे से पुलिस पार्टी पर गोली भी चलाई। लुटेरे को पकड़ने गयी पुलिस टीम को जान बचाकर भागना पड़ा। इस मामले में क्राइम ब्रांच के जांच अधिकारी की शिकायत पर धौज थाना पुलिस ने हमलावरों के खिलाफ गंभीर धाराओं में केस दर्ज कर लिया है। लेकिन अभी तक हमलावरों को पकडा नहीं जा सका है।

ये है पूरी घटना

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार क्राइम ब्रांच एनआईटी ने सोने की चैन लूट के एक मामले में गांव फतेहपुर तगा निवासी बदमाश मुस्तकीम पुत्र यकीन को जून में गिरफ्तार किया था। पुलिस पूछताछ में मुस्तकीम ने बताया था कि उसने चैन अपने गांव के रहने वाले इरफान बेच रखी है। आरोपी मुस्तकीन की निशानदेही पर आरोपी इरफान को गिरफ्तार किया। आरोपी इरफान ने पूछताछ मंें बताया कि उसने चैन गांव कुरेशीपुर निवासी जब्बार पुत्र जाकिर और उसके दोस्त पलवल निवासी कृष्ण को बेच दी थी।

जब्बार बदमाश को गिरफ्तार करने गयी थी पुलिस

क्राइम ब्रांच के पुलिसकर्मी खुशविन्द्र, संजय, अमित, संदीप, हरपाल , शिवचरण  व नरेश के साथ  आरोपी इरफान को लेकर  थाना धौज पहुंचे। वहां से सब इंस्पेक्टर सतबीर सिंह , सिपाही रामपाल,  सिपाही सुरेन्द्र सिंह के साथ बदमाश जब्बार के घर पर रेड डाली। गेट खुद जब्बार ने खोली। जब इरफान ने उसे पहचान लिया तो पुलिस टीम ने जब्बार को गिरफ्तार कर लिया। इसके बाद जब्बार के परिजनों ने शोर मचाना शुरू कर दिया और पुलिस टीम से हाथापाई करने लगे।

पड़ोसियों ने लाठी डंडों से किया हमला

शोर सुनकर अड़ोस पड़ोस व जब्बार के परिवार के अन्य लोग लाठी डन्डे लेकर आ गए। लाेगांे ने एक जुट होकर पुलिस पार्टी पर हमला कर दिया।  भूरी व कृष्ण समेत कई महिलाएं व पुरुष  पुलिस पार्टी पर पत्थराव कर आरोपी जब्बार को छुडा लिया। हमलावरों ने आरोपी इरफान को भी छुड़वाने की कोशिश करने लगे। क्राइम ब्रांच के जांच अधिकारी तुषाकांत का कहना है कि पुलिस से छुडवाए गए बदमाश जब्बार ने अपने कमरे में घुस गया और वहां से तमंचा निकालकर पुलिस पार्टी पर फायर कर दिया। पुलिस पार्टी वहां से जान बचाकर भागी।

हमले में तीन पुलिसकर्मी हुए घायल

एएसआई तुषाकांत ने बताया कि आरोपी जब्बार उसके परिवार वालों  तथा पङोसियों के हमले में एएसआई खुशविन्द्र के सिर, कमर व हाथ में चोट लगी, सिपाही सन्दीप को बाएं हाथ व सिर में चोट लगी तथा सिपाही शिवचरण को दाएं हाथ व कमर पर चोट लगी। उन्होंने बताया पुलिस पार्टी पर हमला करने में शमीम लंगड़ा और पलवल निवासी कृष्णा भी शामिल था। इन सभी ने मिलकर पुलिस पार्टी पर हमला करके आरोपी जब्बार को छुडवा लिया तथा  इरफान को भी पुलिस से  छुडवाने की कोशिश की। एएसआई की शिकायत पर धौज थाना पुलिस ने हमलावरों के खिलाफ गंभीर धाराआें में केस दर्ज कर लिया है। धौज पुलिस का कहना है कि हमलावरों की तलाश में छापेमारी की जा रही है।