तुम्हारे परिवार पर भयंकर संकट आया है', तांत्रिक ने महिला से बलि के नाम पर लुटे लाखों

तुम्हारे परिवार पर भयंकर संकट आया है', तांत्रिक ने महिला से बलि के नाम पर लुटे लाखों

तुम्हारे परिवार पर भयंकर संकट आया है', तांत्रिक ने महिला से बलि के नाम पर लुटे लाखों

हिसार। तंत्रमंत्र के चलते लोग अक्सर धोखाधड़ी के शिकार हो रहे हैं। तांत्रिक के चक्कर में पड़कर कई बार लोग अपनों की जान से भी हाथ धो बैठते हैं। हरियाणा के हिसार में महावीर कालोनी के  44 फीट रोड निवासी सुनीता रानी ने तांत्रिक के चक्कर में आकर तीन लाख रुपये का सोना गंवा दिया। मामले में पीड़िता ने सिटी थाना पुलिस को शिकायत दी है।

शिकायत में बताया कि उसके पति एक प्राइवेट टेलर का काम करते है और उसके दो बच्चे है। उसके पति ने सरकारी बैंक में लोन अप्लाई कर रखा था। लेकिन किसी न किसी वजह से लोन का काम सिरे नहीं चढ़ रहा था। लोन ना मिलने से परेशानी बड़ी और झगड़ा रहने लगा। सात-आठ महीने पहले उसने तांत्रिक का एक विज्ञापन पढ़ा। जिसमें लिखा था की अपनी घर की कोई भी परेशानी 12 घंटो में निजाद पाए, वरना पैसे वापस।

वह परेशान थी तो उसने इश्तेहार में दिए गए नंबर पर ग्रीन स्क्वायर मार्किट निवासी तांत्रिक सिकंदर गुरु से बात की। तांत्रिक ने 150 रुपये की पर्ची काटी और कहने लगा उसका काम हो ही नहीं सकता। क्याेंकि उसपे बुरी आत्मा का साया है। उसके किसी अपने की मौत भी हो सकती है। वह बुरी तरह से डर गई। उपाय के लिए पूछा, तो तांत्रिक ने पूजा के सामान के लिए 6500 रुपये लिए और कहा दो दिन बाद आना और एक नींबू मंत्रित करके दे दिया।

इसको अपने तकिए के नीचे रख कर सोना सारे संकट खत्म हो जाएंगे। उस दिन के बाद से उसका दिमाग काम करना बंद कर गया और जैसे-जैसे तांत्रिक कहता वह करती गई। तांत्रिक के आफिस में तीन-चार तांत्रिक थे, और जो उसके चेले थे। बातचीत से यह प्रतीत होता है कि तांत्रिक उत्तर प्रदेश के मुस्लमान है। उसने सोचा क्यों ना उसके पति को बैंक का लोन दिलवा कर चकित कर दूं। इसलिए तांत्रिक से काम ना होने की शिकायत करने गई। तांत्रिक ने कहा बकरे की बलि देनी पड़ेगी और उसके सामान के लिए 35000 रूपए लगेंगे, सात घंटे बाद ही काम हो जाएगा। उसने तांत्रिक को 35000 रुपये दे दिए।

लेकिन तांत्रिक ने कहा ये पैसे शुद्ध नहीं थे इसलिए उसका काम नहीं हुआ। उसके बाद लाकडाउन लग गया। तांत्रिक के लगातार फोन आने लगे। लाकडाउन खत्म होने के बाद तांत्रिक ने कहा की उसका काम हो जाएगा। लेकिन पांच किलो बादाम और 40 हजार रुपये की सामग्री लगेगी। उसने पति से बिना बताए सोने के जेवरात 50 हजार रुपये में एक सुनार को बेच दिए और तांत्रिक को 40 हजार रुपये नकद और पांच किलो बादाम दे आई।

तांत्रिक को बता भी दिया उसके पास पैसे नहीं थे। उसने पति से छिप कर सोने का आभूषण बेच कर दिए है। अब उसका काम जरूर करवा दो। तांत्रिक ने कहा काम हो जाएगा। लेकिन तांत्रिक ने उस दिन से उसे ब्लैकमेल करना शुरु कर दिया। कहने लगा की उसके पति को भी बता दुंगा की घर का सोना बेच कर वह पैसे लाई है। उसने सोचा की ना तो काम बना और घर में झगड़ा अलग से होगा। आरोपित उसे आ़फिस में बुला कर कहने लगा वह पवित्र नहीं है। इसलिए उसका काम नहीं बन रहा, वह उसे 21 ग्राम के सोने के 24 कैरेट के दो टुकडे ला दे, वह उसे जल से पवित्र कर देगा और उसके बाद दो दिन में ही काम बन जाएगा।

पीड़िता ने सोना लाइफ गोल्ड लोन में गिरवी रख कर 2.50 लाख रुपये का नया सोना खरीद कर 21-21 ग्राम के टुकड़े तांत्रिक को दे दिए। तांत्रिक ने एक खाली हांडी में वह सोना रखकर अपने एक चेले के साथ नहर में पर्वाहित करने के लिए भेज दिया। रास्ते में वह सोने के टुकड़े उस हांडी में से चालाकी से निकाल लिए और खाली हांडी नहर में पर्वाहित कर दी। हांडी के नहर में डालते ही उसमें से आग निकलने लगी और वह डर गई। जो चेला साथ भेजा था, उसने ड्रामा करके मुंह में से खून जैसा पदार्थ निकालने लगा। उसने कहा की उसकी सारी बला इस लड़के पर आ गई है। अगर इस लड़के को बचाना है तो तीन ऊंटो की बलि देनी पड़ेगी, नहीं तो यह मर जाएगा। इस बात से वह डर गई और उसके पास और पैसा तांत्रिक को देने के लिए नहीं था तो मजबूरन उसने अपनी बहन को सारी बात बताई।

तांत्रिक उसे रोज फोन पर धमकी दे रहा है की या तो तीन लाख रुपये दे दे, नहीं तो उसके पति और उसके बच्चों को जान से मार देगा और उसके चेले की मौत का इल्जाम उस पर लगेगा। उसने डरते डरते सारी बात अपने परिवार में भी बता दी है। तांत्रिक उसे ये भी कहता था की अगर तीन लाख रुपये का इन्तजाम नहीं हुआ तो उसे उसके गुरु के साथ संबंध बनाना पड़ेगा। इसके बाद वे चार लोग चले गए और चार नए लोग आ गए। वे अपने आप को उनका भी गुरु बताते है उसे परेशान कर रखा है। पुलिस ने शिकायत पर केस दर्ज कर चार लोगों को गिरफ्तार किया है।