ये महारानी खूबसूरत दिखने के लिये कुंवारी लड़कियों के खून से नहाती थी

ये महारानी खूबसूरत दिखने के लिये कुंवारी लड़कियों के खून से नहाती थी

ये महारानी खूबसूरत दिखने के लिये कुंवारी लड़कियों के खून से नहाती थी

नई दिल्ली : खूबसूरती पाने की चाह हर महिला को होती है। कोई भी महिला की यही चाहत होती है कि वो सबसे ज्यादा खूबसूरत दिखे। अरसों से यही चला आ रहा है। जब हम विश्व के इतिहास के पन्नों को पलटते हैं तो वहां भी कई ऐसी दास्तां देखने को मिलती है। रानी, महारानियां भी अपनी खूबसूरती को बढ़ाने के लिये बहुत कुछ करती थीं। कई कहानियां ऐसी भी सुनने को मिलती हैं, जब रानियों ने अपनी सुंदरता बढ़ाने के लिये तंत्र-मंत्र का सहारा लिया था। आज हम आपको एक ऐसी महारानी की कहानी बताने जा रहे हैं, जिसने अपनी खूबसूरती को बरकार करने के लिये ऐसा किया, जिसे सुनकर किसी की रुह कांप जाये। हंगरी की रहने वाली महारानी एलिजाबेथ बाथरी क्रूर महिलाओं में से एक थीं। उन्हें दुनिया की सबसे खतरनाक सीरियल किलर महिला के रुप में जाना जाता है। एलिजाबेथ अपनी खूबसूरती को बढ़ाने के लिये कुंवारी लड़कियों के खून से नहाती थी। कहा जाता है कि साल 1585 से लेकर साल 1610 के बीच में एलिजाबेथ बाथरी ने तकरीबन 600 कुंवारी लड़कियों की हत्या की थी। हत्या करने के बाद एलिजाबेथ ने उन लड़कियों के खून से स्नान किया था। दरअसल, एलिजाबेथ को किसी ने सलाह दी थी उस सलाह के मुताबिक एलिजाबेथ ने ये काम करना शुरु कर दिया था।


महारानी एलिजाबेथ को लगता था कि लड़कियों खून से नहाने से उसकी जवानी सारी उम्र बरकरार रहेगी। खुद को खूबसूरत और जवान बनाये रखने के जूनून ने उसे दुनिया की नंबर एक सीरियल किलर बना दिया था। ऐसा सुनने को मिलता है कि एलिजाबेथ लड़कियों को मारने के बाद उनके शरीर के मांस को अपने दांतों से काटकर निकाल लेती थी। वो अपनी दरिदंगी का शिकार खासकर गरीब लड़कियों को बनाती थी।  आसपास के गांवों की गरीब लड़कियों को अपने महल में अच्छे पैसों पर काम करने का लालच देकर बुला लेती थी। लेकिन लड़कियां जैसे ही महल में आती थीं, वो उन्हें अपना शिकार बना लेती थी। ऐसा करने से धीरे-धीरे लड़कियों की संख्या कम होने लगी। इसके बाद एलिजाबेथ ने ऊंचे घराने की लड़कियों को भी अपना शिकार बनाना शुरु कर दिया था। 


हंगरी के राजा को जब इस मामले की जानकारी मिली तो उन्होंने इसकी जांच करवाई। इस मामले को लेकर जब जांचकर्ता एलिजाबेथ के महल में पहुंचे, तो वहां का हाल देखकर हैरान रह गए। जांच दल ने एलिजाबेथ के महल से कई लड़कियों के कंकाल और सोने-चांदी के आभूषण बरामद किए थे। इसके बाद साल 1610 में हंगरी के राजा के आदेश के बाद उसे तीन नौकरों के साथ गिरफ्तार किया गया था। इन सब तथ्यों के मद्देनजर उसे महल में ही कैद कर दिया गया था। करीब 4 साल बाद उसकी इसी महल में मौत हो गई थी।