IAS Ankita Choudhary Success Story: मां को खोया लेकिन अपने लक्ष्य पर रखा फोकस, मिलिए चीनी मिल वर्कर की बेटी IAS अंकिता चौधरी से

  1. Home
  2. VIRAL NEWS

IAS Ankita Choudhary Success Story: मां को खोया लेकिन अपने लक्ष्य पर रखा फोकस, मिलिए चीनी मिल वर्कर की बेटी IAS अंकिता चौधरी से

cs


 

IAS Ankita Choudhary Success Story:  अंकिता चौधरी, एक छोटे से कस्बे में रहने वाली थीं, जो हरियाणा के रोहतक जिले में स्थित था। बचपन से ही उनका दिमाग पढ़ाई में काफी तेज था और उन्हें शिक्षा में दिलचस्पी थी। उनके पिता एक चीनी मिल में काम करते थे, जोकि इस मध्यमवर्गीय परिवार के लिए मुश्किल समयों के बीच एक महत्वपूर्ण साधन था।

अंकिता ने ग्रेजुएशन के दिनों में ही अपने मन में यूपीएससी परीक्षा की तैयारी करने का संकल्प लिया था। इसके लिए उन्होंने किसी भी प्रकार का कमीशन नहीं किया और पोस्ट ग्रेजुएशन के बाद ही पूरी तरह से यूपीएससी की तैयारी शुरू की। उनका मार्ग आसान नहीं था, लेकिन उन्होंने हमेशा अपने लक्ष्य के प्रति संवेदनशीलता बनाए रखा।

पहले दो अटेम्प्ट्स में, यूपीएससी परीक्षा में सफलता नहीं मिली थी, और उनकी संघर्षपूर्ण यात्रा में एक दुखद घटना ने उन्हें विराम देने की कोशिश की थी। इस दौरान, उनकी माँ की एक दुर्घटना में निधन हो गया था, जिससे उन्हें अधिकारिक योग्यता की प्राप्ति के रास्ते में कठिनाइयां आईं। लेकिन उनके पिता ने उन्हें हौसला दिया और उन्हें साहस और समर्पण से अपने सपने को पूरा करने के लिए प्रेरित किया।

अंकिता ने दूसरे प्रयास में यूपीएससी परीक्षा में सफलता हासिल की और अपने सपने को साकार करके आईएएस अधिकारी बनने का गर्व महसूस किया। उनकी इस सफलता ने समाज के उन लोगों को प्रेरित किया, जो आईएएस अधिकारी बनने के लिए संघर्ष कर रहे हैं, और उन्हें दिखाया कि कठिनाइयां आने वाले समय में हौसले से सामना करके जीती जा सकती हैं।

अंकिता चौधरी की यह कहानी हमें सिखाती है कि मन की दृढ़ता, मेहनत और समर्पण से हम अपने लक्ष्य को प्राप्त कर सकते हैं, चाहे समय कितना भी कठिन क्यों न हो। उन्होंने अपने विजयी प्रयास के साथ संघर्षों का सामना किया और अपने लक्ष्य को हासिल किया, जो एक अद्भुत उपलब्धि है। उनकी कहानी एक सच्चे संघर्षी की प्रेरणा है,

Around The Web

Uttar Pradesh

National