बच्चे और बड़े मिट्टी क्यों खाते हैं?

बच्चे और बड़े मिट्टी क्यों खाते हैं?

बच्चे और बड़े मिट्टी क्यों खाते हैं?

मिट्टी खाने की चीज नहीं है, लेकिन फिर भी लोग अक्सर शिकायत करते हैं कि बच्चे मिट्टी खाते हैं। कुछ बड़े भी मिट्टी, चॉक, ईंट, दीवार पर लगा प्लास्टर तक खाने लगते हैं। ये चिंता की बात है क्योंकि मिट्टी खाने से शरीर में पोषक तत्वों की कमी हो जाती है।आमतौर पर कहा जाता है कि शरीर में कैल्शियम की कमी के कारण कोई मिट्टी खाता है। लेकिन आपको बता दें कि कैल्शियम नहीं बल्कि आयरन की कमी के कारण लोग मिट्टी खाने के लिए मजबूर हो जाते हैं। आयरन की कमी तब होती है जब शरीर में फोलिक एसिड और विटामिन बी 12 की कमी होती है। दरअसल शरीर में खून की कमी बच्चों की खुराक पर निर्भर है। जिन बच्चों को केवल दूध का ही सेवन कराया जाता है उन्हें उन्हें केवल प्रोटीन, कैल्शियम जैसे तत्व मिलते हैं, आयरन नहीं मिल पाता, इसलिए बच्चों को सिर्फ दूध ही नहीं बल्‍कि अन्न, दाल, सब्जियां देनी चाहिए। इससे शरीर में आयरन की कमी पूरी होगी और बच्चा मिट्टी नहीं खाएगा।

मिट्टी और चॉक खाने से पेट में कीड़े पड़ सकते हैं और इसकी वजह से कई बार पथरी की समस्या भी हो जाती है। इसलिए जरूरी है कि बच्चों और बड़ों की भी इस आदत को खत्म करना चाहिए।

मिट्टी खाने की आदत को छुड़ाने के लिए अपनाएं ये तरीके

  • बच्चे को रात के समय गुनगुने पानी के साथ आधा चम्मच अजवाइन का पाउडर दें। इससे मिट्टी खाने की आदत छूट जाएगी। 
  • छोटे बच्‍चे को केला और शहद मिलाकर खाने को दें
  • मिट्टी खाने की आदत छुड़ाने के लिए लौंग काफी कारगर है। इसक लिए एक पैन में एक कप पानी लेकर उसमें कुछ लौंग डालकर धीमी आंच में थोड़ी देर पका लें। अब इस पानी को ठंडा करके दिन में तीन बार इसे बच्चे को पीने को दें।
  • बच्चों की डाइट में घी जरूर शामिल करें। 
  • आम की गुठली के पाउडर को थोड़ी मात्रा में पानी में मिला लें और इसे बच्चे को पिलाएं। यह मिट्टी खाने की आदत छुड़वाने के साथ पेट के कीड़े को खत्म करने में मदद करेगा। 
  • बच्चे को  आयरन, फोलिक एसिड, विटामिन बी12 युक्त पोषक खाद्य पदार्थ दें।