Rahul Gandhi : अडाणी पर बोलने के कारण मेरी सांसदी गई

  1. Home
  2. Politics

Rahul Gandhi : अडाणी पर बोलने के कारण मेरी सांसदी गई

rahul gandhi

कहा-मानहानि केस में मुझे सबसे बड़ी सजा दी गई


Rahul Gandhi : कांग्रेस नेता राहुल गांधी तीन दिन से अमेरिका के दौरे पर हैं। राहुल गांधी लगातार मोदी सरकार और बीजेपी पर निशाना साध रहे हैं। इसी बीच उन्होंने 2024 लोकसभा चुनाव को लेकर बड़ा दावा किया। जानकारी के मुताबिक, राहुल गांधी ने वॉशिंगटन डीसी के नेशनल प्रेस क्लब में कुछ सवालों के जवाब दिए। इस दौरान केरल में मुस्लिम लीग से गठबंधन को लेकर कांग्रेस नेता ने कहा- मुस्लिम लीग पूरी तरह से सेक्युलर पार्टी है। विपक्ष एकजुट हो रहा है। हम सभी विपक्षी पार्टियों से बात कर रहे हैं और लोकसभा चुनाव में भाजपा को सत्ता से हटाने के लिए विपक्ष के एकजुट होने पर भरोसा जताया। सांसदी जाने के सवाल पर उन्होंने कहा- मुझे 1947 के बाद मानहानि के मामले में सबसे बड़ी सजा मिली है। मैंने संसद में अडाणी को लेकर स्पीच दी थी, जिसकी वजह से मुझे डिस्क्वालिफाई कर दिया गया। 

जानकारी के मुताबिक, केरल में मुस्लिम लीग के साथ कांग्रेस के गठबंधन पर एक सवाल के जवाब में राहुल ने कहा, मुस्लिम लीग पूरी तरह से धर्मनिरपेक्ष पार्टी है, इसमें गैर-धर्मनिरपेक्ष कुछ भी नहीं है। मुझे लगता है कि व्यक्ति ने मुस्लिम लीग का अध्ययन नहीं किया है। राहुल ने कहा कि उनकी पार्टी सभी विपक्षी दलों के साथ नियमित रूप से बातचीत कर रही है, इस संबंध में "काफी अच्छा काम हो रहा है"। विपक्ष बहुत अच्छी तरह से एकजुट है, और यह अधिक से अधिक एकजुट हो रहा है। 

हम सभी विपक्ष (पार्टियों) के साथ बातचीत कर रहे हैं। मुझे लगता है कि वहां काफी अच्छा काम हो रहा है। यह एक जटिल चर्चा है क्योंकि ऐसे स्थान हैं जहां हम विपक्ष के साथ मुकाबला कर रहे हैं। इसलिए थोड़ा लेन-देन आवश्यक है। लेकिन मुझे विश्वास है कि यह होगा। अमेरिका की अपनी मौजूदा यात्रा के दौरान कांग्रेस नेता सैन फ्रांसिस्को, वाशिंगटन डीसी और न्यूयॉर्क का दौरा करेंगे। 

उनसे सवाल किया गया कि रूस और यूक्रेन जंग को लेकर कांग्रेस का रूस के लिए क्या स्टैंड है। इसके जवाब में राहुल ने कहा कि रूस को लेकर जो BJP का रुख है, वैसा ही रुख कांग्रेस का होगा। उन्होंने कहा कि रूस और भारत के बीच जो रिश्ता है, उसे नकारा नहीं जा सकता है। इसलिए हमारी पॉलिसी सरकार जैसी ही होती। भारतीय तंत्र और व्यवस्थाएं बहुत मजबूत है, लेकिन इस सिस्टम को कमजोर कर दिया गया है। अगर लोकतांत्रिक तरीके से बातचीत की जाए, तो सारे मसले खुद सुलझ जाएंगे। 

उन्होंने कहा, मुझे लगता है कि लोकतंत्र के लिए प्रेस की स्वतंत्रता और आलोचना को सुनना जरूरी है। मैं जो भी सुनता हूं उस पर विश्वास नहीं करता। मैं पूरे भारत में घूमा हूं। कन्याकुमारी से कश्मीर तक घूमा हूं। लाखों भारतीयों से सीधे बात की है। मुझे वो लोग खुश नहीं लगे और वो बेरोजगारी, महंगाई से बहुत परेशान हैं। लोगों में गुस्सा था। देश में बढ़ती महंगाई और रिकॉर्ड बेरोजगारी के चलते अमीरों और गरीबों के बीच की खाई बढ़ती जा रही है। ऐसे में अर्थव्यवस्था को लेकर PM मोदी के दावों पर भरोसा करना मुश्किल लगता है।

ये भी पढ़ें :

Haryana News : विवाहिता पर ससुराल में मानसिक व शारीरिक अत्याचार

Delhi Sakshi Murder Case Update : दिल्ली पुलिस को मिला 'साक्षी हत्याकांड' का बड़ा सबूत

* Wrestlers Protest : पहलवानों के आंदोलन को लेकर आज कुरुक्षेत्र में होगा बड़ा ऐलान

Around The Web

Uttar Pradesh

National