अधिकारियों और भाजपा सरकार को 48 घंटे का अल्टीमेटम : अनुराग ढांडा

  1. Home
  2. Breaking news

अधिकारियों और भाजपा सरकार को 48 घंटे का अल्टीमेटम : अनुराग ढांडा

anurag dhanda

k9media.live


आम आदमी पार्टी के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट अनुराग ढांडा ने सोमवार को प्रेसवार्ता की। इससे पूर्व, उन्होंने गांव रोड़ी में अंतिम अरदास कार्यक्रम में भी शामिल हुए।  पत्रकारों से कहा बातचीत में अनुराग ढांडा ने कहा कि जिस तरीके से आम आदमी पार्टी की जिला पार्षद संदीप कौर के जेठ पालाराम की नशा तस्करों द्वारा हत्या कर दी गई। क्योंकि वो लगातार नशे के खिलाफ आवाज उठाते थे। इसलिए उनकी हत्या कर दी गई थी, आज उनका भोग रखा गया था, जहां समाज के सभी लोग इकट्ठे हुए थे। सबकी जुबान पर एक ही बात थी कि देखिए किस तरीके का न्याय और अत्याचार चल रहा है। एक व्यक्ति की जान चली गई और केवल हत्या नहीं की गई बल्कि निर्मम हत्या की गई। उनके कई अंग काटकर इतने दुर्दांत तरीके से हत्या की गई जो दिखाता है कि नशा तस्करों में पुलिस का खौफ बिल्कुल भी नहीं बचा है। ऐसी हत्या के बावजूद नामजद आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया गया है। ये बहुत ही शर्मनाक है और  दिखाता है कि भाजपा की सरपरस्ती में नशे का कारोबार पूरे इलाके में चल रहा है।

उन्होंने कहा सीएम खट्टर ने खुद कहा था कि सिरसा में नशे का कारोबार बहुत फैला हुआ है। नौ साल सीएम की कुर्सी पर बैठने के बाद यदि सीएम खुद ये कहता हो कि नशा बहुत फैला हुआ है तो वो खुद अपने फेल होने की कहानी बता रहे थे। उन्होंने कहा कि आज उनके द्वारा कहा गया एक एक शब्द जमीन पर सच होता हुआ नजर आ रहा है। पुलिस ने नशा तस्करों के सामने सरेंडर कर दिया है, यहां तक कि परिवार के लोगों को बुलाकर पुलिस के बड़े अधिकारी मुख्य आरोपी का नाम वापस लेने की कहते हैं। इसका मतलब पुलिस अधिकारियों और राजनीतिक सरपरस्ती में नशे का कारोबार चल रहा है।

उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी के किसी कार्यकर्ता की कुरबानी बेकार नहीं जाएगी। आम आदमी पार्टी उन सभी अधिकारियों और भाजपा की सरकार को 48 घंटे का अल्टीमेटम देते हैं। आरोपी बलविंदर सिंह पर दर्जनों एफआईआर हैं, आर्म्स एक्ट में चार एफआईआर हैं, धोखाधड़ी, 302 हत्या और 307 हत्या के प्रयास की एफआईआर दर्ज है। इसके अलावा नशा तस्करी की एफआईआर दर्ज है। सबसे पहले सवाल ये है कि ऐसा आरोपी पुलिस गिरफ्त से बाहर कैसे है। ये अपने आप में बताता है कि इसके ऊपर किसी बड़े व्यक्ति का हाथ है।

उन्होंने कहा कि पुलिस इस व्यक्ति को 48 घंटे के अंदर गिरफ्तार करे या फिर इस व्यक्ति पर किस बड़े नेता या मंत्री का हाथ है ये सार्वजनिक करे। यदि पुलिस के बस की बात नहीं है तो आम आदमी पार्टी सरकार से टकराने की हिम्मत रखती है। लेकिन कोई नशे के खिलाफ आवाज उठाए और उसका जीवन चला जाए, इसको आम आदमी पार्टी व्यर्थ नहीं जाने देगी। आम आदमी पार्टी इस संघर्ष को सड़कों पर लेकर उतरेगी, ये लड़ाई यहां खत्म नहीं होगी। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी इन अधिकारियों को चेतावनी देती है कि आपने जो कानून की शपथ ली है उसको पूरा करें और आरोपी को तुरंत प्रभाव से गिरफ्तार करें। वर्ना सरकार तो आती जाती रहती हैं। एक साल बाद ये सरकार नहीं रहेगी।

इस मौके पर कुलदीप गदराना, हैप्पी रतिया, श्याम मेहता, बीबो इंदौरिया, जयविंदर मचेव, वीरेंद्र सिंह, डी आई हंसू, रवि, कविता नागर, रोहतास, भूपेंद्र बेनीवाल, दारा सिंह, प्रदीप सचदेवा, सुरजीत बेगू और राजेश मलिक मौजूद रहे

Around The Web

Uttar Pradesh

National