छप्पर में लगी आग से गाय व अधेड़ जिंदा जले

छप्पर में लगी आग से गाय व अधेड़ जिंदा जले

झज्जर के एक गांव में बीती रात एक छप्पर में लगी आग की चपेट में आकर बुरीतरह झुलसने से एक अघेड़ व्यक्ति व एक गाय के जिंदा जल जाने का समाचार है।छप्पर में आग लगने के कारण क्या रहे इस बात का तो पुलिस की जांच पूरी होने के बाद ही खुलासा हो सकेगा,लेकिन पुलिस को दी गई शिकायत में मृतक के परिजनों ने इसे एक साजिश बताया है और इसके लिए पड़ौस के ही एक परिवार को जिम्मेवार ठहराते हुए पुलिस से कार्रवाई करने की मांग की है। मृतक की पहचान गांव उखलचना कोट निवासी रामधारी के रूप में हुई है। पुलिस के अनुसार रामधानी रात्रि मेंपरिवार से दूर एक छप्पर के नीचे सोता था। इसी छप्पर में गाय भी इस परिवार द्वारा बांधी जाती थी। बीती रात करीब ढाई बजे ही इस छप्पर में अचानक आग लग गई। पुलिस कंट्रोल रूम पर मिली सूचना के बाद पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने मौके पर एफएसएल की टीम को भी  बुलवाया। मौके से प्रमाण जुटाए जाने के बाद पुलिस ने मृतक रामधारी के शव को पोस्टमार्टम के लिए झज्जर के नागरिक अस्पताल भिजवा दिया। उधर पुलिस में दिए गए बयान में मृतक रामधारी के परिजनों ने कहा है कि उनका पड़ौस के ही कृष्ण के परिवार के साथ एक प्लाट को लेकर झगड़ा चल रहा है। उन्होंने छप्पर में लगी आग की मुख्य वजह जमीनी विवाद बताया है। फिलहाल पुलिस ने इस मामले में मृतक के परिजनों की शिकायत पर आरोपियों के खिलाफ हत्या का अभियोग अंकित कर अपनी जांच शुरू कर दी है।