करनाल में डेयरी और गौशाला में चारा देने वाले किसानो ने सांकेतिक हड़ताल की।

करनाल में डेयरी और गौशाला में चारा देने वाले किसानो ने सांकेतिक हड़ताल की।
करनाल में डेयरी और गौशाला में चारा देने वाले किसानो ने सांकेतिक हड़ताल की। किसानों का कहना है कि उन्हें चारे का सही रेट नहीं मिलता है।गायों के लिए ,भैसों के लिए चारा ज़रूरी है जिससे वो अपना पेट भरती हैं और उसके बाद हमें अच्छा दूध मिलता है , लेकिन अगर चारा देने वाले किसान हड़ताल पर चले जाएंगे तो फिर उसका प्रभाव पशुओं की सेहत पर पड़ेगा , साथ ही साथ दूध उत्पादन पर भी। आज डेयरी और गौशाला में चारा देने वाले किसानों ने धरना दिया , सरकार के खिलाफ नारेबाजी की, और सांकेतिक हड़ताल की । किसानों का कहना है कि उनके चारे का रेट तय किया जाए , फिलहाल उन्हें 80 से  90 रुपए क्विंटल के हिसाब से चारे के पैसे मिलते हैं , वो चाहते हैं कि इसके रेट तय किए जाए और उन्हें इसके 200 रुपए प्रति क्विंटल के हिसाब से मिले ताकि इनको नुकसान ना हो। 
फिलहाल ये इनकी सांकेतिक हड़ताल थी, प्रशासन और सरकार तक अपनी बात पहुंचाने के लिए , अगर इनकी मांगों पर विचार नहीं किया गया तो ये आगे अपनी ट्रॉलियां लाकर ज़िला सचिवालय के बाहर प्रदर्शन करेंगे।