सोनीपत में किसानों ने दी चेतावनी कहा करेंगे सीएम का कड़ा विरोध, नहीं उतरने देंगे हेलीकॉप्टर

सोनीपत में किसानों  ने दी चेतावनी कहा करेंगे सीएम का कड़ा विरोध, नहीं उतरने देंगे हेलीकॉप्टर

जिले के गोहाना क्षेत्र के पूर्व विधायक किताब सिंह मलिक के निधन पर शोक व्यक्त करने के लिए रविवार को गांव आंवली पहुंचने से पहले ही सीएम मनोहर लाल के कार्यक्रम का विरोध शुरू हो गया है। भाकियू नेताओं ने गांव में सीएम का हेलीकॉप्टर नहीं उतरने देने की चेतावनी दी है। इसको लेकर भाकियू नेता गांव आंवली में बने हेलीपैड स्थल पर भी पहुंचे। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि किसान कैमला की तरह सीएम का विरोध करेंगे और गांव आंवली में उनका हेलीकॉप्टर नहीं उतरने देंगे।

पूर्व विधायक किताब सिंह मलिक का सोमवार को निधन हो गया था। पैतृक गांव आंवली में ही उनका अंतिम संस्कार किया था। उनके घर शोक जताने के लिए रविवार को सीएम मनोहर लाल को आना है, जिसका कार्यक्रम प्रशासन के पास पहुंच चुका है। वह सुबह करीब साढ़े 10 बजे हेलीकॉप्टर से गांव आंवली आएंगे और इसके लिए प्रशासन ने गांव में ही हेलीपैड बनाया है। इससे पहले शुक्रवार को हेलीपैड पर भारतीय किसान यूनियन (भाकियू) के जिलाध्यक्ष अशोक मुंडलाना, जिला चेयरमैन भगत सिंह, डॉ. शमशेर मलिक, बिजेंद्र छिछड़ाना व कथूरा ब्लाक के अध्यक्ष कृष्ण मलिक पहुंचे। किसान नेताओं ने कहा कि यह निर्णय गांव आंवली में पहुंचकर ग्रामीणों से बातचीत करके लिया गया है। वहीं किसानों की इस चेतावनी के बाद प्रशासन व पुलिस के लिए भी परेशानी बढ़ गई है और सीएम के आने से पहले वहां भारी पुलिस बल तैनात करने की बात कही जा रही है।