स्वास्थ्य विभाग की टीम ने किया लिंग जांच गिरोह का भंड़ाफोड़

स्वास्थ्य विभाग की टीम ने किया लिंग जांच गिरोह का भंड़ाफोड़

झज्जर जिले की स्वास्थ्य विभाग की टीम ने एक लिंग जांच गिरोह का भंड़ाफोड़ किया है। इस गिरोह के तार यूपी से जुड़े थे जोकि गर्भवती महिलाओं के गर्भ में पल रहे बच्चे के लिंग की जांच एवज में मोटी रकम लेकर
कराते थे। टीम की सजगता से गिरोह के दो दलाल को मौक से काबू किया गया,जबकि जहां लिंग जांच की जा रही थी उस अल्ट्रासाऊंड सेंटर का डाक्टर व उसका सहायक मौके से फरार होने में कामयाब हो गए। विभागीय टीम ने मौके से दो गर्भवती महिलाओं को भी काबू किया है जोकि अपने गर्भ में पल रहे बच्चे
की जांच कराने अल्ट्रासाऊंड सेंटर में आई थी। जानकारी अनुसार झज्जर जिला स्वास्थ्य विभाग की टीम को एक गुप्त सूचना मिली थी कि दिल्ली के नांगलोई
क्षेत्र में एक ऐसा गिरोह सक्रिय है जोकि गर्भवती महिलाओं के गर्भ में पल
रहे बच्चे की जांच मोटी रकम की एवज में कराता है। इसी गुप्त सूचना के
आधार पर स्वास्थ्य विभाग पीएनडीटी की नोडल अधिकारी डा.ममता वर्मा के
नेतृत्व में एक टीम का गठन किया। इसी टीम ने एक रणनीति के तहत एक प्रलोभन
ग्राहक तैयार की। उसी ने नांगलोई क्षेत्र से इस बारे में बातचीत की। दलाल
द्वारा लिंग जांच की एवज में 37 हजार रूपए की रकम प्रलोभन ग्राहक से
मांगी और उसे दिल्ली के उद्योग विहार में बुला लिया। योजना अनुसार रिश्वत
की रकम विभाग की टीम ने नम्बर नोट कर प्रलोभन ग्राहक को थमा दी। बाद में
दलाल के बताए अनुसार प्रलोभन ग्राहक गाड़ी से उद्योग विहार पहुंची। वहां
पहुंचने के बाद प्रलोभन ग्राहक ने 37 हजार रूपए दलाल राजीव निवासी
नांगलोई दिल्ली को दे दिए। बाद में एक अन्य दलाल अनिल को साथ लेकर पहला
आरोपी राजीव प्रलोभन ग्राहक को लेकर यूपी के गाजियाबाद स्थित ओम सेंटर के
पास पहुंचे। लेकिन वहां छापेमारी की भनक आऊम सेंटर में बैठे चिकित्सक व
उसके सहायक को लग चुकी थी। जोकि सेंटर को बंद कर मौके से फरार हो गए। इस
पूरे घटनाक्रम पर झज्जर जिला स्वास्थ्य विभाग की टीम नजर जमाए हुए थे।
मौका मिलते ही टीम वहां पहुंची और टीम ने सेंटर के पास खड़ी दो महिलाओं व
उक्त दो दलाल राजीव और अनिल को काबू किया। यह गर्भवती महिला अपने गर्भ
में पल रहे बच्चे की जांच कराने यहां आई थी। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने
एक दलाल के कब्जे से 25 हजार के वह नोट भी बरामद कर लिए ,जिसके की नम्बर
उनके पास थ। दूसरे दलाल की जेब से 17 सौ रूपए टीम को बरामद हुए है।
शुक्रवार को विभाग की टीम ने काबू की गई इन दो महिलाओं व दो दलालों को
अदालत में पेश किया। यहां से मैडिकल ग्राऊंड पर इन दोनों महिलाओं को
जमानत दे दी गई,जबकि अदालत ने दलाल राजीव व अनिल को रिमांड पर पुलिस को
सौंप दिया। रिमांड के दौरान पुलिस को इन दलालों से कई मामले उजागर होने
की आशंका है।